ताज़ा खबर
 

किसानों को मुआवजे की खातिर उच्चतम न्यायालय जाएगा स्वराज अभियान

स्वराज अभियान ने नुकसान से जूझ रहे पंजाब के कपास किसानों के लिए कानूनी शिविर का आयोजन किया और कहा कि वे प्रभावित किसानों को मुआवजे के लिए एक स्वतंत्र समिति की मांग को लेकर उच्चतम न्यायालय जाएंगे..

Author चंडीगढ़ | Updated: December 28, 2015 1:37 AM
स्वराज अभियान का गठन प्रशांत भूषण और योगेंद्र यादव ने किया है। (फाइल फोटो)

स्वराज अभियान ने नुकसान से जूझ रहे पंजाब के कपास किसानों के लिए रविवार को बठिंडा में जन सुनवाई सह कानूनी शिविर का आयोजन किया और कहा कि वे प्रभावित किसानों को मुआवजे के लिए एक स्वतंत्र समिति की मांग को लेकर उच्चतम न्यायालय जाएंगे। स्वराज अभियान एक समूह है जिसका गठन आम आदमी पार्टी से निष्कासित नेताओं प्रशांत भूषण और योगेंद्र यादव ने किया है। उच्चतम न्यायालय के जानेमाने वकील भूषण ने किसानों को संबोधित करते हुए कहा कि खेती का मौजूदा मॉडल नाकाम हो गया है।

उन्होंने कहा कि स्वराज अभियान प्रभावित किसानों के लिए मुआवजे के वास्ते स्वतंत्र समिति आयोग के गठन की मांग के साथ उच्चतम न्यायालय का रुख करेगा। उन्होंने कहा कि जिम्मेदार नौकरशाहों, मंत्रियों, ड्रग कंपनियों के खिलाफ आपराधिक कार्यवाही शुरू करने तथा प्रभावित श्रमिकों के लिए भी मुआवजे की जरूरत की भी मांग की जाएगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
ये पढ़ा क्‍या!
X