scorecardresearch

श्रीकांत त्‍यागी के साथ नाम जोड़े जाने पर भड़के स्‍वामी प्रसाद मौर्य, बोले- मैं बीजेपी छोड़ने के बाद विधानसभा गया ही नहीं तो कहां से त्‍यागी का पास बन गया?

Shrikant Tyagi Case: श्रीकांत त्यागी के पास को लेकर मौर्य ने कहा कि पिछले छह-सात महीने से कोई पास नहीं बना। बीजेपी छोड़ने के बाद मैं कभी विधानसभा गया ही नहीं।

श्रीकांत त्‍यागी के साथ नाम जोड़े जाने पर भड़के स्‍वामी प्रसाद मौर्य, बोले- मैं बीजेपी छोड़ने के बाद विधानसभा गया ही नहीं तो कहां से त्‍यागी का पास बन गया?
सपा नेता व पूर्व कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य। (फोटो सोर्स: @SwamiPMaurya)

Shrikant Tyagi Case: उत्तर प्रदेश के नोएडा ओमेक्स सोसाइटी में महिला से बदसलूकी के बाद श्रीकांत त्यागी को मंगलवार (9 अगस्त, 2022) को मेरठ से गिरफ्तार कर लिया गया। वहीं श्रीकांत त्यागी के साथ नाम जोड़े जाने पर पुलिस कमिश्नर की प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद यूपी के पूर्व कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य भड़क गए।

स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा कि जब मैं बीजेपी सरकार में मंत्री रहा हूंगा तो किसी ने पास बनवा लिया गया होगा, मैं उसके विषय में नहीं कह सकता। मौर्य ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि ये कैसे अपना दामन छुड़ा सकते हैं। आज जनता के सामने बेनकाब हो रहे हैं तो इनको (बीजेपी) को स्वामी प्रसाद मौर्य याद आते हैं।

मौर्य ने कहा कि पिछले चार साल से हमारी उससे (श्रीकांत त्यागी) कोई मुलाकात ही नहीं हुई है। इसके बावजूद भारतीय जनता पार्टी यह क्यों कहती है कि श्रीकांत त्यागी का संबंध स्वामी प्रसाद मौर्य से था। पूर्व मंत्री ने कहा कि जब चार दिन से लगातार भारतीय किसान मोर्चे के पार्टी पदाधिकारी के रूप उसका नाम आ रहा है तो स्वामी प्रसाद मौर्य का नाम कहां से आ जाता है।

स्वामी प्रसाद मौर्य बोले- पिछले 6-7 महीने से कोई पास नहीं बना

श्रीकांत त्यागी के पास को लेकर मैौर्य ने कहा कि पिछले छह-सात महीने से कोई पास नहीं बना। उन्होंने कहा कि बीजेपी छोड़ने के बाद मैं कभी विधानसभा गया ही नहीं। विधानसभा चुनाव खत्म होने के बाद मैं 11 जुलाई को विधान परिषद का सदस्य चुना गया। उसके बाद मैंने किसी का पास नहीं बनवाया तो कहां से श्रीकांत त्यागी का पास हमारे यहां से बन गया।

भाजपा अपने पाप किसी दूसरे पर मढ़ना चाहती: स्वामी प्रसाद मौर्य

मौर्य ने कहा यह पूरा भारतीय जनता पार्टी का झूठ, फरेब और तिकड़म है। उन्होंने कहा कि भाजपा अपने पाप और बला को किसी दूसरे पर डालने की नापाक कोशिश है। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार में मंत्री रहा हूंगा तो बीजेपी का कोई नेता या पदाधिकारी बनवा लिया होगा। मैं उसके विषय में नहीं कह सकता, लेकिन मेरे संज्ञान में ऐसा कहीं कुछ नहीं है।

2017 में श्रीकांत त्यागी मुझसे पहली बार मिला: स्वामी प्रसाद मौर्य

श्रीकांत त्यागी के साथ अपने संबंधो को लेकर स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा कि शुरुआती दिनों में वो मुझे भारतीय जनता पार्टी के पदाधिकारी के रूप में मिला था। उसके बाद मैंने उससे कहा कि कोई बात हो तो बताना।

मौर्य ने कहा कि यह साल 2017 की बात है। उसके दो-चार महीने के बाद वो मुझे कभी दिखाई नहीं पड़ा। पूर्व मंत्री ने कहा कि पिछले चार साल से वो आज तक मिला ही नहीं तो वो कैसे स्वामी प्रसाद मौर्य का कार्यकर्ता हो गया। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी अपना दामन बचाने के लिए दूसरे के सिर ठीकरा फोड़ने की नापाक कोशिश कर रही है।

‘श्रीकांत त्यागी से बीजेपी अपना दामन नहीं छुड़ा सकती’

मौर्य ने कहा कि श्रीकांत त्यागी का फोटो बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के साथ है। यूपी के डिप्टी सीएम केशव मौर्य के साथ है। यहां तक बीजेपी अन्य टॉप नेताओं के साथ है तो भाजपा कैसे अपना दामन छुड़ा सकती है।

पूर्व मंत्री ने आरोप लगाया कि भारतीय जनता पार्टी पूरे देश को झूठ और भ्रम के मकड़जाल में फंसा कर नचा रही है। जनता को गुमराह कर रही है। साथ ही चैनल को भी गुमराह कर रही है।

अखिलेश ने पूछा- श्रीकांत त्यागी को सिक्योरिटी कौन दे रहा था

श्रीकांत त्यागी को लेकर सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने कहा कि यही भारतीय जनता पार्टी का चाल, चरित्र और चेहरा है। उन्होंने कहा कि श्रीकांत त्यागी के संबंध विधायक, सांसद, मंत्री यहां तक की मुख्यमंत्री तक से थे। यही बीजेपी नेता उसको अभी तक बचा रहे थे। सपा नेता ने कहा कि अगर संबंध नहीं होते तो पुलिस को इतने दिन पकड़ने में नहीं लगते। अखिलेश यादव ने सवाल किया कि आखिर श्रीकांत त्यागी को सिक्योरिटी कौन दे रहा था।

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट