ताज़ा खबर
 

पलवल : परिवार वाले आपस में भिड़े, चार की मौत

पलवल जिले की हथीन तहसील के गांव उटावड में अपसी रंजिश के चलते एक ही परिवार में हुए खूनी संघर्ष में चार लोगों की मौत हो गई और दो गंभीर रूप से घायल हो गए।

Author चंडीगढ़ | May 27, 2016 2:11 AM
चित्र का इस्तेमाल सिर्फ प्रतीकात्मक तौर पर किया गया है।

पलवल जिले की हथीन तहसील के गांव उटावड में अपसी रंजिश के चलते एक ही परिवार में हुए खूनी संघर्ष में चार लोगों की मौत हो गई और दो गंभीर रूप से घायल हो गए। एक ही कुनबे में हुई खूनी वारदात के बाद आरोपी परिवार सहित फरार हो गए।

वारदात बुधवार 11 बजे के बाद हुई। वारदात की खबर मिलने पर पलवल के पुलिस अधीक्षत राजेश दुग्गल भारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस ने मृतकों का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिए। पुलिस ने 31 लोगों के खिलाफमुकदमा दर्ज कर लिया है। उटावड गांव में भारी तनाव बना हुआ है और बड़ी तादाद में पुलिस तैनात है। खबर लिखे जाने तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है।
पुलिस अधीक्षक राजेश दुग्गल के मुताबिक उटावड गांव में आंधा मोहल्ला के एक दादा के कुनबे के दो परिवारों में पुरानी रंजिश के चलते बुधवार को कहासुनी के बाद खूनी संघर्ष की नौबत आ गई।

आरोपियों ने चार लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी और दो लोग घायल कर दिए। हत्या का कारण पुरानी रंजिश बताई गई है। हत्या करने के बाद आरोपी फरार हो गए। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर हालात को काबू में किया। गांव में तनाव को देखते हुए होडल-पलवल और हथीन के डीएसपी भारी पुलिस बल के साथ गांव में तैनात कर दिए गए हैं।

गांव उटावड के आंधा मोहल्ला में एक ही दादा के परिवार में आपसी रंजिश को लेकर मंगलवार को शुरू हुआ विवाद इतना बढ़ गया कि बुधवार को दर्जन से ज्यादा लोगों ने मिलकर लाठी, डंडे, सरिया और देशी कट्टे दूसरे परिवार के लोगों पर हमला बोल दिया। इस खूनी संघर्ष में चार लोगों की गोली लगने से मौत हो गई और दो लोग घायल हो गए। उटावड़ पुलिस चौकी प्रभारी मनोज कुमार ने बताया कि गांव उटावड़ में गोली लगने से दीन मोहम्मद (55), रज्जाक (32), वसीम (18)और हामिद (24) की मौत हो गई। पुलिस ने शवों का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए सिविल अस्पताल भिजवाया। करीब 11 बजे हुई इस घटना के बाद पुलिस ने आसू वलद रमजान की शिकायत पर 31 लोगों के खिलाफ धारा 147, 148,149,323,302 और 25,54 आर्म एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X