ताज़ा खबर
 

गर्लफ्रेंड से जबरन बंधवाई राखी तो छत से कूद गया छात्र, प्रिंसिपल-टीचर्स की गिरफ्तारी की मांग

त्रिपुरा के शिक्षा मंत्री रतन लाल ने छात्र के परिवार से मुलाकात करके उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया है। स्थानीय मीडिया ने छात्र के हवाले से यह भी लिखा है कि स्कूल के प्रिंसिपल ने राखी न बंधवाने पर उसकी पिटाई भी की थी।

चित्र का इस्तेमाल प्रतीकात्मक तौर पर किया गया है। (एक्सप्रेस फाइल फोटो)

त्रिपुरा की राजधानी अगरतला से एक विचित्र मामला सामने आया है। इस मामले में स्कूल के शिक्षक ने 18 वर्षीय छात्र को उसकी गर्लफ्रेंड से राखी बंधवाने की कोशिश की। इस पूरे वाकये से आहत छात्र ने स्कूल की इमारत की दूसरी मंजिल से नीचे छलांग लगा दी। छात्र इस वक्त अस्पताल में है। लेकिन उसकी हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है।

बताया गया कि अगरतला के निजी स्कूल में प्रिंसिपल और कुछ शिक्षकों ने 18 वर्षीय छात्र को अपने कमरे में बुलाया था। उसके साथ ही उसकी गर्लफ्रेंड को भी तलब किया गया था। इसके बाद शिक्षकों ने छात्र की गर्लफ्रेंड से कहा कि वह उसकी कलाई पर राखी बांधे। छात्र ने लगातार ​शिक्षकों का विरोध किया। इसके बाद आहत हुए छात्र ने स्कूल की बिल्डिंग की दूसरी मंजिल से छलांग लगा दी। आत्महत्या की इस कोशिश में छात्र की जान तो बच गई लेकिन वह गंभीर रूप से घायल हो गया।

घटना की जानकारी मिलते ही पूरे स्कूल में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में स्कूल प्रशासन ने छात्र को अस्पताल पहुंचाया। जहां अब उसकी हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है। घटना की जानकारी होने पर छात्रों और अभिभावकों ने स्कूल प्रशासन के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन शुरू कर दिया। घटना से गुस्साए स्थानीय लोगों ने नरसिंहगढ़-​अगरतला रोड पर जाम लगा दिया। परिजनों ने शिक्षकों की गिरफ्तारी की मांग शुरू कर दी।

घटना के बाद पहुंचे स्थानीय विधायक ने लोगों को शांत करवाया। जबकि त्रिपुरा के शिक्षा मंत्री रतन लाल ने छात्र के परिवार से मुलाकात करके उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया है। स्थानीय मीडिया ने छात्र के हवाले से यह भी लिखा है कि स्कूल के प्रिंसिपल ने राखी न बंधवाने पर उसकी पिटाई भी की थी। इसके बाद उसके परिजनों को बुलाकर बेइज्जत भी किया गया था। इस घटना के बाद छात्र मानसिक रूप से आहत था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App