ताज़ा खबर
 

दिल्ली : स्कूल में गिरा पंखा, एक छात्र गंभीर रूप से घायल, मनोज तिवारी ने दिल्ली सरकार को बताया जिम्मेदार

दिल्ली के त्रिलोकपुरी स्थित राजकीय सर्वोदय विद्यालय में पंखा गिरने से एक छात्र गंभीर रूप से घायल हो गया। बताया जा रहा है कि छात्र जीटीबी अस्पताल में जीवन और मौत से जूझ रहा है।

Author नई दिल्ली | July 12, 2019 10:18 AM
मनोज तिवारी ने केजरीवाल को बताया जिम्मेदार (फोटो सोर्स – जनसत्ता)

पूर्वी दिल्ली के त्रिलोकपुरी से दिल दहला देने वाली घटना सामने आयी है। ब्लॉक 20 स्थित राजकीय सर्वोदय विद्यालय में मंगलवार (09 जुलाई) को पंखा गिरने से एक छात्र गंभीर रूप से घायल हो गया। बताया जा रहा है कि छात्र को जीटीबी अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां वह जीवन और मौत से जूझ रहा है।

क्या है मामला : दरअसल, मंगलवार को पूर्वी दिल्ली के त्रिलोकपुरी में ब्लॉक 20 स्थित राजकीय सर्वोदय विद्यालय में क्लास चल रही थी। इसी दौरान सातवीं क्लास में अचानक एक पंखा चलते-चलते निचे गिर गया। पंखे के चपेट में आने से 13 वर्षीय छात्र हर्ष गंभीर रूप से घायल हो गया। स्कूल प्रशासन ने आनन-फानन में हर्ष को लाल बहादुर शास्त्री अस्पताल में भर्ती करवाया। रात में हर्ष की हालत और बिगड़ता देख डॉक्टरों ने उसे जीटीबी अस्पताल में रेफर कर दिया। अगले दिन बुधवार को डॉक्टरों ने उसके सर का ऑपरेशन किया बावजूद इसके छात्र की हालत गंभीर बनी हुई है।

National Hindi News, 11 July 2019 LIVE Updates: देश-दुनिया की हर खबर पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक

परिवार की आर्थिक हालत भी ख़राब : बताया जा रहा है कि घायल छात्र के परिवार की आर्थिक हालत भी काफी कमजोर है। वह अपने मां-बाप और एक छोटी बहन के साथ त्रिलोकपुरी में रहता है। उसके पिता प्लम्बर का काम करते हैं वहीं मां घरेलू सहायिका का काम करके घर का गुजारा करती है। छात्र के चाचा ने मीडिया को बताया कि उन्हें दोपहर दो बजे स्कूल से इसकी जानकारी दी गई थी, जिसके बाद घरवाले अस्पताल पहुंचे तो डॉक्टर उसके सिर में पट्टी लगा रहे थे।

दिल्ली सरकार पर उठ रहे सवाल : हादसे के लिए पैरेंट्स एसोसिएशन के अध्यक्ष अपराजिता गौतम ने दिल्ली सरकार को जिम्मेदार बताया है, उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार अच्छे कामों का क्रेडिट लेने से नहीं चुकती तो इसका जिम्मेदारी भी लेनी चाहिए। वहीं दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी ने भी आप सरकार पर निशाना साधा है। तिवारी ने कहा है कि दिल्ली में कमरों के खर्चे में बड़े स्तर पर घोटाला हुआ है। आज पंखा गिरा है कल कोई और अनहोनी हो सकता है। इस घटने से दिल्ली सरकार की अमानवीय चेहरा सामने आया है। छात्रों की सुरक्षा और उनकी भविष्य को लेकर सरकार गंभीर नहीं है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App