ताज़ा खबर
 

श्रमिक संघों की हड़ताल आज, नोएडा के औद्योगिक इलाकों में चौकसी बढ़ी

सीटू एवं संयुक्त श्रमिक संघों की शुक्रवार की देशव्यापी हड़ताल को लेकर तीनों पक्ष, उद्यमियों, प्रशासन और श्रमिक संगठनों ने अपनी-अपनी तैयारी पूरी कर ली है।

Author नई दिल्ली | September 2, 2016 02:43 am
(Express File Photo)

सीटू एवं संयुक्त श्रमिक संघों की शुक्रवार की देशव्यापी हड़ताल को लेकर तीनों पक्ष, उद्यमियों, प्रशासन और श्रमिक संगठनों ने अपनी-अपनी तैयारी पूरी कर ली है। उद्यमियों के संगठन नोएडा एंटरप्रिन्योर्स असोसिएशन (एनईए) ने शहर के तीनों औद्योगिक इलाके फेज-1, 2 और 3 में निगरानी रखने के लिए पदाधिकारियों को तैनात किया है। जहां पर शुक्रवार सुबह 8.30 बजे से एनईए पदाधिकारी मौजूद रहेंगे। श्रमिक संगठन सीटू ने कार्यकर्ताओं को सेक्टरवार जिम्मेदारी सौंपी है।

गुरुवार को बारिश होने के दौरान सीटू पदाधिकारियों ने जनसंपर्क कर मजदूरों को हड़ताल की मांगों के बारे में जानकारी दी। वहीं पुलिस ने भी प्रत्येक औद्योगिक क्षेत्रों में भारी संख्या में पुलिस बल के अलावा सादी वर्दी में भी पुलिसकर्मी तैनात किए हैं। एलआइयू अधिकारियों से हड़ताल के मद्देनजर गोपनीय जांच कराई गई है। उल्लेखनीय है कि 2013 में ऐसी ही एक हड़ताल के दौरान नोएडा में बड़े पैमाने पर तोड़फोड़, आगजनी और हिंसा हुई थी।

हड़ताल के दौरान श्रमिकों के उग्र हो जाने की आगजनी और तोड़फोड़ से कारखानों में करोड़ों रुपए का नुकसान हुआ था। एनईए अध्यक्ष विपिन मल्हन ने बताया कि हड़ताल के दौरान वारदात आदि को रोकने के लिए सेक्टर-6 में मदद केंद्र बनाया गया है। इस केंद्र पर एनईए पदाधिकारियों के अलावा टास्क फोर्स के सदस्य भी मौजूद रहेंगे। 0120-2422158, 2422159, 8860322239, 8588850301 पर उद्यमी सूचना दे सकतें हैं। भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी से नोएडा विधानसभा उम्मीदवार गंगेश्वर शर्मा ने बताया कि श्रम कानूनों में पूंजीपतियों के हक में मजदूर विरोधी बदलावों की सरकारी मुहिम के खिलाफ और न्यूनतम वेतन 20 हजार रुपए सहित अन्य मांगों को लेकर यह हड़ताल की जा रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App