X

जम्‍मू-कश्‍मीर: सौतेले भाई ने दोस्‍तों संग 9 साल की बहन से किया गैंगरेप, फिर कर दी हत्‍या

बच्ची की सौतेली मां फहमीदा लंबे समय से अपने पति की दूसरी पत्नी और उसके बच्चों से चिढ़ी हुई थी। इसलिए उसने हत्या की साजिश रची। बच्ची को जंगल ले गई। यहां उसके साथ गैंगरेप किया गया और फिर हत्या कर दी गई।

उत्तर कश्मीर के बारामुला जिले के उरी के सीमावर्ती इलाके से एक शर्मनाक और दिल दहलाने वाली वारदात सामने आई है। आरोप है कि यहां 14 वर्षीय सौतेले भाई ने मां के सामने अपने दोस्तों के साथ मिलकर 9 वर्षीय बहन के साथ गैंगरेप किया और फिर उसकी हत्या कर दी। हत्या के बाद चाकू से उसकी आंखें निकाल शव को एसिड से जला दिया गया, ताकि पहचान न हो सके। पुलिस ने इस मामले में सौतेले भाई, उसके दोस्तों और सौतेली मां समेत पांच लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, घटना 2 सितंबर को सामने आई जब लापता लड़की का शव घर से करीब एक किलोमीटर दूर पास के जंगल में मिला। एसएसपी मिर इम्तियाज ने बताया कि, “घटना की प्रारंभिक जांच से प्रतीत होता है कि यह हत्या की वारदात है। इसी दिशा में जांच प्रक्रिया आगे बढ़ रही है। उरी के एसडीपीओ के नेतृत्व में हत्या की जांच के लिए एक एसआईटी का गठन कर दिया है।” कड़ी पूछताछ के बाद इस मामले का खुलासा हुआ।

एसआईटी ने जांच के दौरान जब लड़की की सौतेली मां और संदिग्धों से पूछताछ की तब दिल दहलाने वाले इस बलात्कार और हत्याकांड का खुलासा हुआ। इम्तियाजन ने बताया कि, “जांच के दौरान यह पाया गया कि सौतेली मां फहमीदा लंबे समय से अपने पति की दूसरी पत्नी और उसके बच्चों से चिढ़ी हुई थी। पूछताछ के दौरान उसने खुलासा किया कि उसके पति अपनी दूसरी पत्नी के साथ ज्यादा समय बीताते थे और सभी बच्चों के बीच बेटी को सबसे अधिक प्यार करते थे।”

पुलिस ने बताया कि, “लंबे समय से इस परिवार में तनाव का वातावरण बन रहा था। फहमीदा ने अपनी सौतेली बेटी की हत्या की साजिश रची। घटना के दिन वह सौतेली बेटी को लेकर जंगल में ले गई। इस दौरान रास्ते में उसने अपने 14 वर्षीय बेटे को घटना को अंजाम देने का इशारा किया। जंगल में 14 वर्षीय बेटा अपने दो दोस्तों 19 वर्षीय कैसर अहमद और 14 वर्षीय नसीर अहमद के साथ मां से मिला। घटनास्थल पर सौतेली मां की मौजूदगी में बच्ची के साथ गैंगरेप किया गया। इसके बाद फहमीदा ने बच्ची का गला दबाया और उसके बेटे कुल्हाड़ी से सिर पर वार किया। इससे बच्ची की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। इसके बाद एक आरोपी घर गया और एसिड की बोतल लेकर आया। कैसर ने चाकू से बच्ची की आंखे निकाल दी और फिर पूरे शरीर पर एसिड डाल दिया गया ताकि उसकी पहचान न हो सके।”

पुलिस ने बताया कि, “कैसर और नसीर ने शव को झाडि़यों में फेंक दिया और पेड़ की टहनियों से ढ़क दिया। आरोपियों के पास से घटना को अंजाम देने के दौरान प्रयोग किए गए कुल्हाड़ी, चाकू समेत अन्य सामान बरामद कर लिए हैं। साथ ही प्लास्टिक में रखा एसिड भी बरामद कर लिया गया। सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। जल्द ही चार्जशीट दायर की जाएगी।

  • Tags: Crime News, gang rape,