ताज़ा खबर
 

श्रीनगर: लाल चौक पर पुलिस और छात्र भिड़े, पत्थरबाजी में 1 सुरक्षाकर्मी घायल

छात्रों ने सुरक्षाबलों पर पत्थर फेंके, जिसके बाद सुरक्षाबलों ने आंसू गैस के गोले छोड़े।

हाल के दिनों में सुरक्षाबलों पर पत्थरबाजी की घटनाओं में इजाफा देखने को मिला है।

श्रीनगर के लाल चौक पर आज (17 अप्रैल) पुलिस और छात्रों के बीच झड़प हो गई, जिसमें एक सुरक्षाकर्मी घायल हो गया। श्रीनगर के पुलवामा में छात्रों ने सुरक्षाबलों पर पत्थर फेंके, जिसके बाद सुरक्षाबलों ने आंसू गैस के गोले छोड़े। मामले की शुरुआत उस वक्त हुई, जब पिछले दिनों कुछ छात्रों को पकड़ने के लिए सेना एक डिग्री कॉलेज में पहुंची थी। इसी का छात्र विरोध कर रहे थे। आपको बता दें कि हाल के दिनों में सुरक्षाबलों पर पत्थरबाजी की घटनाओं में इजाफा देखने को मिला है।

पुलवामा के कॉलेज में घुसते सुरक्षाबल:

हाल ही में एक वीडियो सामने आया था, जिसमें कुछ कश्मीरी युवक सीआरपीएफ जवान की लात से पिटाई और उनके साथ हाथापाई तक कर रहे थे, लेकिन जवानों ने उनकी इन हरकतों का कोई जवाब नहीं दिया था। वीडियो में साफ दिख रहा था कि कश्मीरी युवाओं का एक ग्रुप उनके साथ हिंसा कर रहा था और वह बंदूक होने के बावजूद भी कोई प्रतिक्रिया नहीं दे रहे थे। यह वीडियो श्रीनगर में हुए चुनाव के दौरान का बताया जा रहा था। उस वक्त जवान चुनावी ड्यूटी से वापस लौट रहे थे। श्रीनगर लोकसभा उप चुनाव के दौरान हुई हिंसा में आठ लोगों की मौत हो गई थी। वोटिंग के दौरान कई जगहों पर सुरक्षाबलों पर पत्थरबाजी की थी। कई जगहों पर हिंसक भीड़ ने मतदान केंद्रों पर हमला कर दिया था। सैकड़ों ईवीएम को तोड़ दिया गया था।

जवान की पिटाई करते कश्मीरी युवक :

इसके बाद हाल ही में एक अन्य वीडियो भी सामने आया था, जिसमें जवान एक आम शख्स को अपनी गाड़ी के बाहर बांधकर ले जा रहे थे। वीडियो के साथ कहा जा रहा था कि सेना के लोगों ने अपने ऊपर फेंके जाने वाले पत्थरों से बचने के लिए उसको गाड़ी से बांधा हुआ है। बताया गया था कि वीडियो में जो जीप दिख रही है वह बडगाम में हुए उपचुनाव के बाद कश्मीर के इलाके में घूम रही थी। घाटी में इंटरनेट सेवा बंद थी लेकिन जैसे ही फिर से इंटरनेट शुरू हुआ इस वीडियो को पोस्ट कर दिया गया।

यहां देखें वीडियो ः

जम्मू-कश्मीर: पीडीपी नेता और मंत्री फारुख अंद्राबी के घर पर आतंकी हमला, सुरक्षाकर्मी घायल, देखें वीडियो ः

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App