scorecardresearch

Mainpuri Bypoll: शिवपाल यादव के ‘चेले’ के समर्थन में प्रचार करने उतरे ‘नेताजी के शिष्य’ और केंद्रीय मंत्री ने कसा सपा पर तंज, बोले- पूरा खानदान वोट मांगने उतर आया है

SP Singh Baghel Taunt on SP: केंद्रीय मंत्री एसपी सिंह बघेल ने कहा कि जो समाजवादी पार्टी केवल नॉमिनेशन कर चली जाती थी और केवल जीत का सर्टिफिकेट लेने आती थी। आज वह प्रधानी की तरह घर-घर सातों लोग वोट मांग रहे हैं।

Mainpuri Bypoll: शिवपाल यादव के ‘चेले’ के समर्थन में प्रचार करने उतरे ‘नेताजी के शिष्य’ और केंद्रीय मंत्री ने कसा सपा पर तंज, बोले- पूरा खानदान वोट मांगने उतर आया है
SP Singh Baghel on Mainpuri Bypoll: मैनपुरी उपचुनाव पर एसपी बघेल का सपा पर तंज (Photo- File)

SP Singh Baghel on Mainpuri Bypoll: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) की मैनपुरी लोकसभा सीट पर उपचुनाव (Mainpuri By Polls) को लेकर समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) और भारतीय जनता पार्टी (BJP) के बीच सीधा मुकाबला है। सपा (SP) की तरफ से डिंपल यादव (Dimple Yadav) चुनावी मैदान में हैं, तो बीजेपी की तरफ से उम्मीदवार रघुराज सिंह शाक्य (Raghuraj Singh Shakya) से चुनावी टक्कर है। मैनपुरी उपचुनाव को लेकर मुकाबाला दिलचस्प हो गया है। सपा प्रमुख विरासत बचाने के लिए पूरी ताकत झोंक दी है। इस पर शिवपाल यादव के ‘चेले’ के समर्थन में प्रचार करने उतरे ‘नेताजी के शिष्य’ (Mulayam Singh Yadav) और केंद्रीय मंत्री एसपी सिंह बघेल (SP Singh Baghel) ने सपा पर तंज कसा हैं। उन्होंने कहा कि पूरा खानदान वोट मांगने उतर आया है।

शिवपाल सिंह यादव (Shivpal Singh Ydav) पर तंज

केंद्रीय मंत्री एसपी सिंह बघेल ने कहा कि जो समाजवादी पार्टी केवल नॉमिनेशन कर चली जाती थी और केवल जीत का सर्टिफिकेट लेने आती थी। आज वह प्रधानी की तरह घर-घर सातों लोग वोट मांग रहे हैं। इससे ये पता चलता है कि वो हताशा और निराशा से भरे हुए हैं। उन्होंने शिवपाल सिंह यादव पर तंज कसते हुए कहा कि उन पर ये कहावत लागू होती है कि हमें कोई और नहीं तुम्हें कोई ठौर नहीं। एसपी ने आगे कहा कि अगर उनकी सरकार आती है तो कोई प्लॉट सुरक्षित नहीं रहती है। मकान, दुकान सुरक्षित नहीं रहते है। नौकरियों में सूची दी जाती है।

‘बीजेपी (BJP) हमेशा चुनावी मोड (Election Mode) में रहती है’

यूपी तक से बात करते हुए एसपी सिंह बघेल ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी हमेशा चुनावी मोड़ में रहती है। उन्होंने कहा, “जो फौजे शांति काल में पसीना बहा लेती है, उन्हें खून बहाने की जरूरत नहीं होती है।” केंद्रीय मंत्री ने इस दौरान कहा कि बीजेपी की चुनावी रणनीति है कि वह केंद्र सरकार और राज्य सरकार की योजनाओं को लेकर जनता के बीच जाएंगे। साथ ही योगी आदित्यनाथ को जो बुलडोजर है उसको लोगों को याद करना है।

जानिए कौन हैं (SP Singh Baghel) एसपी सिंह बघेल

राजनीति में आने से पहले एसपी सिंह बघेल उत्तर प्रदेश पुलिस (Uttar Pradesh) में सब-इंस्पेक्टर के पद पर तैनात थे। साल 1989 में मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) जब मुख्यमंत्री बने तो उन्हें सीएम (CM) की सुरक्षा में तैनात कर दिया गया था। साल 1998 के उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में मुलायम सिंह यादव के कहने पर एसपी सिंह बघेल को टिकट दिया गया। मुलायम (Mulayam Singh Yadav) ने उन्हें जलेसर सीट से चुनाव लड़वाया और एसपी सिंह बघेल ने जीत दर्ज की। यहीं से उनके राजनीतिक जीवन की शुरुआत हुई और इसके बाद उन्होंने पीछे मुड़कर नहीं देखा।

2007 में BSP में शामिल हो गए थे एसपी सिंह बघेल

हालांकि, साल 2009 के लोकसभा चुनाव (Loksabha Election) से पहले एसपी सिंह बघेल बीएसपी (BSP) में शामिल हो गए थे। साल 2014 के चुनाव में बघेल ने समाजवादी पार्टी के (Samajwadi Party) नेता रामगोपाल यादव के बेटे अक्षय यादव को ही चुनौती दी थी और इस चुनाव में उनकी हार हुई, लेकिन उन्होंने (SP Singh Baghel) साबित कर दिया कि वह बड़ी चुनौतियों से डरने वाले नहीं हैं। साल 2014 के लोकसभा चुनाव के बाद उन्होंने (SP Singh Baghel) बीजेपी का हाथ थाम लिया और 2017 के विधानसभा चुनाव में टूंडला से जीत दर्ज की। इसके बाद उन्हें योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री बनाया गया था। बघेल ने साल 2019 में बीजेपी (BJP) के टिकट पर आगरा से लोकसभा चुनाव लड़ा था और जीत हासिल की थी और अब वह मोदी सरकार में मंत्री हैं।

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 24-11-2022 at 06:42:33 pm
अपडेट