ताज़ा खबर
 

चुनावी रैली में छलका आजम खान का दर्द, भावुक होते हुए कहा- आखिर मेरी खता क्या है

सपा सांसद आजम खान से किसानों की जमीन कब्जाने के आरोप में दर्ज मुकदमों के सिलसिले में एसआईटी ने पांचवीं बार करीब दो घंटे तक पूछताछ की थी।

आजम खान फोटो सोर्स- सोशल मीडिया

उत्तर प्रदेश के रामपुर से समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खान किला मैदान में चुनावी रैली के दौरान भावुक हो गए। इस दौरान उन्होंने अपने ऊपर हो रही कार्रवाई का जिक्र करते हुए कहा कि मुझे इतना बता दो कि आखिर मेरी खता (गलती) क्या है, मुझे इंसाफ दो? बता दें कि आजम पर अब तक 80 से अधिक मामलों में एफआईआर दर्ज हो चुकी है। वह विधानसभा उपचुनाव में सपा प्रत्याशी और अपनी पत्नी तंजीम फातिमा के लिए चुनावी सभा को संबोधित कर रहे थे।

क्या बोले आजम खान: रामपुर में पत्नी के समर्थन में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए सपा सांसद आजम खान ने कहा कि मेरे माथे पर लिखी बदनसीबी को आप लोग पढ़ने की कोशिश करो। उन्होंने कहा कि आखिर मेरी खता क्या है, मुझे इंसाफ दो। आजम ने जौहर विश्वविद्यालय की जमीन को लेकर जारी विवाद पर कहा कि मैंने बच्चों के हाथ में कलम दी क्या यह मेरा गुनाह था। मुझसे ज्यादती बदला लेने वाले लोगों याद रखना मरने के बाद कब्र में हिसाब नहीं होता, सब सी जमीन पर होगा।
National Hindi News, 12 October 2019 Top Headlines Updates: देश-दुनिया की हर खबर पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक

रामपुर में उपचुनाव: बता दें कि 21 अक्टूबर को रामपुर शहर की विधानसभा सीट पर होएं वाले उपचुनाव में आजम खान की पत्नी मैदान में हैं। यह सीट आजम के लोकसभा सांसद निर्वाचित होने के बाद खाली हुई थी।

एसआईटी की चल रही जांच: बता दें कि आजम पर 80 से अधिक मामलों में एफआईआर दर्ज हो चुकी है। हालांकि कोर्ट ने 29 मामलों में उनकी गिरफ्तारी से रोक लगाई है। शुक्रवार को रामपुर के महिला थाने में एसआईटी के सामने पेश, इस दौरान उनसे 2 घंटे पूछताछ चली। वह अब तक 5 बार एसआईटी के सामने पेश हो चुके हैं।

Next Stories
1 Haryana Elections 2019: सीएम योगी बोले- कांग्रेस की हालत बिना ड्राइवर की ट्रेन और बिना पायलट के विमान जैसी
2 बाबा रामदेव अंडा खाएं तो बढ़ जाएगी इसकी डिमांड, शंकराचार्य बताएं एग नॉन वेजिटेरियन है या नहीं; अमरिंदर के मंत्री बोले
ये पढ़ा क्या?
X