ताज़ा खबर
 

500 करोड़ के हवाला कांड का खुलासा करने वाले SP ने गृहमंत्री को कहा- नोटिस की परवाह नहीं, हर भ्रष्टाचारी की तोड़ दूंगा कमर

एसपी गौरव तिवारी ने मध्य प्रदेश के गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह को कहा है कि नोटिस मिलने पर जवाब देंगे।

एसपी गौरव तिवारी और मध्य प्रदेश के गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह

मध्य प्रदेश में घोटालो की बात कोई नई नहीं है लेकिन इस बार चर्चा में है पांच सौ करोड़ का हवाला कांड। जिसका खुलासा किया था एसपी गौरव तिवारी ने। 500 करोड़ के घोटाले का खुलासा करने वाले एसपी गौरव तिवारी एक बार फिर चर्चा में हैं। उनकी इस चर्चा की वजह है उनका एक आदेश जो सूबे के गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह को पसंद नहीं आ रहा। बीते दिनों एसपी ने एक आदेश जारी किया था। जिसमें उन्होंने कहा है कि अगर किसी भी थाना या चौकी का कोई भी पुलिस कर्मी लोकायुक्त द्वारा किसी भी मामले में पकड़ा जाता है तो वहां के थाना प्रभारी को तुरंत निलंबित कर दिया जाएगा। यह आदेश देने के बाद एसपी ने इस आदेश की कॉपी जारी की। जब यह कॉपी गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह के पास पहुंची तो मंत्री जी नाराज हो गए।

मंत्री जी बोले देंगे नोटिस- एसपी गौरव तिवारी के आदेश को गलत ठहराते हुए गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह ने कहा कि अगर ट्रैफिक इंस्पेक्टर कोई गलती करता है तो क्या एसपी को निलंबित कर दिया जाना चाहिए। यह आदेश गलत है। मंत्री जी ने कहा कि किसी पुलिसकर्मी की गलती का खामियाजा थानेदार क्यों भुकते। गृहमंत्री ने आदेश की समीक्षा करने का आदेश देते हुए कहा कि यदि एसपी का आदेश गलत पाया जाता है तो उन्हें नोटिस दिया जाएगा। यहां तक कि एसपी पर भी कार्रवाई हो सकती है।

बहुत लोकप्रिय हैं एसपी गौरव- एसपी गौरव तिवारी के काम करने के तरीके को कटनी के लोग बहुत पसंद करते हैं। अपने काम करने के तरीके से वो काफी सुर्खियों में रहते हैं। जनता की नजरों में उनकी छवि एक अच्छे और तेजतर्रार अफसर की है। पांच सौ करोड़ का हवाला कांड का  खुलासा करने के बाद उनका तबादला कर दिया गया। जिसके बाद उनके ऑफिस के बाहर भारी भीड़ उमड़ी। एसपी गौरव को फेसबुक पर भी काफी पसंद किया जाता है। फेसबुक पर उनके 14000 से ज्यादा फॉलोवर हैं।

नोटिस मिला तो देंगे जवाब- एसपी गौरव तिवारी का इस पूरे मामले पर कहना है कि आदेश सरकार के निर्देशों के तहत ही जारी किया गया है। दो साल पहले ये आदेश पीएचक्यू से जारी किया गया था। मैं उसी आदेश का पालन कर रहा हूं। डीएसपी और एसपी के रिश्वत लेते पकड़े जाने पर कार्रवाई का अधिकार सरकार को है। नोटिस मिलने के सवाल पर उनका कहना था कि जब मिलेगा तब जवाब देंगे।

अरविंद केजरीवाल के रिश्तेदार पर करोड़ों के फर्जी बिल देने का आरोप; दिल्ली पुलिस ने दिए जांच के आदेश

पंजाब: रैली के दौरान राजनाथ सिंह बोले- “वोट नहीं देना तो मत दीजिए, लेकिन जूता मत फेंकिए”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App