ताज़ा खबर
 

यूपी: नेता विपक्ष बोले- मुस्लिमों से भाजपा को जो-जो छीनना है छीने, सपा सरकार फिर करेगी बहाल

राम गोविंद चौधरी ने कहा कि देश व उत्तर प्रदेश में जब से भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनी है, सरकार एक-एक कर मुसलमानों की समस्त सुविधाएं छीनने का प्रयास कर रही है।

Author बलिया | January 17, 2018 8:15 PM
उत्तर प्रदेश विधानसभा में विपक्ष के नेता राम गोविंद चौधरी। (File Photo)

उत्तर प्रदेश विधानसभा में विपक्ष के नेता राम गोविंद चौधरी ने भाजपा पर मुसलमानों के दमन का आरोप लगाते हुए घोषणा की है कि समाजवादी पार्टी की सरकार बनने पर भाजपा द्वारा समाप्त की जा रही सारी सुविधाएं फिर से बहाल की जाएंगी। संवाददाताओं से चौधरी ने बातचीत करते हुए मुसलमानों के हज सब्सिडी समाप्त करने के केंद्र सरकार के हालिया निर्णय को मुसलमानों के दमन की संज्ञा दी। उन्होंने कहा कि देश व उत्तर प्रदेश में जब से भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनी है, सरकार एक-एक कर मुसलमानों की समस्त सुविधाएं छीनने का प्रयास कर रही है।

सपा नेता ने आरोप लगाया कि भाजपा सरकार मुसलमानों को आतंकित कर उन्हें अपने पक्ष में करना चाहती है। उन्होंने कहा कि हज सब्सिडी समाप्त करने के बाद भाजपा सरकार अब मदरसों को दिए जा रहे अनुदान को भी समाप्त करने का फैसला कर सकती है। समाजवादी पार्टी मुसलमानों के साथ है तथा सत्ता में आने पर मुसलमानों की जिन सुविधाओं को भाजपा सरकार ने समाप्त किया है, उन सभी सुविधाओं को फिर से बहाल किया जाएगा।

बता दें कि सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आगामी लोकसभा चुनाव को निर्णायक करार देते हुए कुछ दिनों पहले ही कहा था कि पार्टी का जनाधार बढ़ाना उनकी पहली प्राथमिकता है और वह अभी किसी भी दल के साथ गठबंधन के बारे में नहीं सोच रहे हैं। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा था कि जनता को सपा से उम्मीदें हैं, क्योंकि यही दल भाजपा को रोक सकता है। अखिलेश ने साक्षात्कार में कहा, “वर्ष 2019 का चुनाव निर्णायक है, क्योंकि उत्तर प्रदेश के चुनाव नतीजों का संदेश पूरे देश में जाता है। इस समय हम किसी दल से गठबंधन करने के बारे में नहीं सोच रहे हैं, क्योंकि इससे (समझौते और सीटों के बंटवारे में) काफी वक्त खराब होता है और मैं (सीटों को लेकर) किसी भ्रम में नहीं पड़ना चाहता।”

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App