ताज़ा खबर
 

सामने आया सोनभद्र नरसंहार का एक और वीडियो, चीख-पुकार और गोलियों की आवाजों के बीच जान बचाते गांव के लोग

एक ही जगह इतने सारे लोगों के एकसाथ एकत्रित होने से अंदाजा लगाया जा सकता है कि यह नरसंहार कितना भयावह रहा होगा। मालूम हो कि जमीन विवाद में गोंड और गुर्जर समुदाय में टकराव के दौरान फायरिंग हुई थी।

Author सोनभद्र | July 22, 2019 7:28 PM
एक जगह एकत्रित थे हमलावर। फोटो: Video grab image

उत्तर प्रदेश के सोनभद्र जिले में 17 जुलाई को जमीन विवाद में 10 लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। इसका एक और वीडियो सामने आया है। वीडियो में गोलियों की आवाजों के बीच गांव के लोग चीख-पुकार रहे हैं और अपनी जान बचाने के लिए इधर-उधर भाग रहे हैं। दिल दहला देने वाले इस वीडियो मे गांववासी एक खुले मैदान में हैं। इस दौरान कई सारे लोग एकत्रित हैं।

एक ही जगह इतने सारे लोगों के एकसाथ एकत्रित होने से अंदाजा लगाया जा सकता है कि यह नरसंहार कितना भयावह रहा होगा। मालूम हो कि जमीन विवाद में गोंड और गुर्जर समुदाय में टकराव के दौरान फायरिंग हुई। फायरिंग में 10 लोगों की मौत हो गई थी जबकि 23 लोग घायल हो गए थे।

गोंड समुदाय के लोगों को इस गांव में दलित का दर्जा हासिल है। नए वीडियो में सामने आया है कि गांव का प्रधान करीब 300 लोगों को अपने साथ लेकर आया था। करीब 32 ट्रैक्टरों में आए इन लोगों के पास हथियार थे। लोगों ने वहां खेती करना शुरू कर दी थी। लेकिन जब आदिवासी लोग वहां पहुंचे और विरोध किया तो दोनों समुदाय आपस में भीड़ गए।

बता दें कि दोनों के बीच 90 बीघा विवादित जमीन है। मामले में कई लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। जिनमें गांव के प्रधान यज्ञदत्त भूरिया (गुज्जर समुदाय) भी शामिल है। बताया जा रहा है कि प्रधान के इशारे पर ही लोगों ने विवादित जमीन पर खेती करने वाले गोंड जातियों पर धारदार हथियार और बंदूकों से हमला बोल दिया था।

प्रधान के साथ उसके दो बड़े भाई देव दत्त और निधि दत्त, दो भतीजे गणेश और विमलेश को भी गिरफ्तार किया गया है। द इंडियन एक्सप्रेस को पीड़ित परिवार के एक चश्मदीद ने बताया कि प्रधान की तरफ से जमीन के लिए हमले की यह तीसरी कोशिश थी। प्रधान ने यह जमीन दो साल पहले एक सोसाइटी से खरीदी थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App