ताज़ा खबर
 

स्मृति ईरानी के करीबी नेता की हत्या: मृतक का बेटा बोला- पापा ने निकाली थी विजय यात्रा, शायद कांग्रेस समर्थकों को पसंद नहीं आया

अमेठी से भाजपा की सांसद बनी स्मृति ईरानी के करीबी व भाजपा कार्यकर्ता सुरेंद्र सिंह की गोली मारकर हत्या के बाद उनके बेटे का बयान आया है। बेटे का कहना है कि शायद भाजपा की जीत के बाद पापा का विजय यात्रा निकालना कांग्रेस समर्थकों को पसंद नहीं आया।

अमेठी में बरौली के पूर्व ग्राम प्रधान मृतक सुरेंद्र सिंह का बेटा मीडिया से बातचीत करते हुए। (फोटोः एएनआई)

अमेठी से नव निर्वाचित सांसद स्मृति ईरानी के करीबी सुरेंद्र सिंह की शनिवार रात हत्या के बाद बरौली गांव में तनाव का माहौल है। भाजपा कार्यकर्ता की हत्या की खबर के बाद सांसद स्मृति ईरानी अमेठी के लिए रवाना हो गई हैं।

इस बीच बरौली गांव के पूर्व प्रधान रहे सुरेंद्र सिंह के बेटे का कहना है कि मेरे पापा स्मृति ईरानी के करीबी सहयोगी थे और उनके लिए पूरे दिन प्रचार करते रहते थे। स्मृति ईरानी की अमेठी से जीत कर सांसद बनने की खुशी में पिताजी ने विजय यात्रा भी निकाली थी।

मृतक के बेटे ने कहा, ‘मुझे लगता है कि कुछ कांग्रेसी समर्थकों को यह अच्छा नहीं लगा। हमें कुछ लोगों पर संदेह हैं।’ इस बीच पुलिस ने हत्या के इस मामले में संदिग्ध व्यक्ति को हिरासत में लिया है। अमेठी के एसपी राजेश कुमार ने कहा कि इस मामले में हमने कुछ संदिग्ध लोगों को हिरासत में लिया है। हम अधिक सूचना जुटाने का प्रयास कर रहे है और इस मामले की जांच जारी है।

पुलिस की तरफ से इस मामले में राजनीतिक रंजिश समेत अन्य पहलुओं को ध्यान में रखकर भी जांच कर रही है। पुलिस का कहना है कि चूंकि वह ग्राम प्रमुख भी थे, ऐसे में इस घटना को पुरानी रंजिश से जोड़ कर भी देखा जा रहा है। हम राजनीतिक रंजिश की आशंका से इनकार नहीं कर रहे हैं।

मृतक के एक भतीजे ने कहा, ‘उन्होंने स्मृति ईरानी की जीत के बाद मिठाइयां भी बांटी थी।’ वहीं सुरेंद्र सिंह का शव लेने लखनऊ पहुंचे एक रिश्तेदार ने कहा, ‘इस हत्या का गांव की राजनीति से जुड़े किसी पुराने विवाद के साथ जुड़े होने से भी इनकार नहीं किया जा सकता है। यह राजनैतिक विवाद भी हो सकता है।

स्मृति ईरानी राहुल गांधी के खिलाफ लड़ रही थीं और हम लोग भाजपा के समर्थक हैं।’ वहीं भाजपा की वरिष्ठ नेता और इलाहाबाद से सांसद चुनी गईं रीता बहुगुणा जोशी ने कहा कि इस तरह की हत्या ‘स्वीकार्य’ नहीं है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X