ताज़ा खबर
 

जम्मू एवं कश्मीर में पाकिस्तान की ओर से चली गोलीबारी में जवान की मौत

जम्मू एवं कश्मीर के सीमावर्ती पुंछ जिले में चली गोलीबारी में सेना के एक जवान की मौत हो गई।

पाकिस्तान की ओर से चली गोलीबारी में जवान की मौत हो गई।

जम्मू एवं कश्मीर के सीमावर्ती पुंछ जिले में दुर्घटनावश चली गोलीबारी में सेना के एक जवान की मौत हो गई। इससे पहले खबर थी कि पुंछ के मेंढर जिले में नियंत्रण रेखा (एलओसी) में सोमवार शाम को पाकिस्तान की ओर से चली गोलीबारी में जवान की मौत हो गई। रक्षा प्रवक्ता लेफ्टिनेंट कर्नल मनीष मेहता ने सोमवार को मेंढर में पाकिस्तान की ओर से किसी भी तरह की गोलीबारी से इनकार किया। लेफ्टिनेंट कर्नल मनीष मेहता ने आईएएनएस को बताया, “पाकिस्तान की ओर से संघर्षविराम उल्लंघन की कोई खबर नहीं है। दुर्घटनावश चली गोली से एक जवान की मौत हुई है। प्रवक्ता ने हालांकि बताया था कि पाकिस्तान सेना ने सोमवार को राजौरी जिले के नौशेरा सेक्टर में भारतीय चौकियों पर अंधाधुंध गोलीबारी और गोलाबारी की। उन्होंने कहा था कि जिसका भारतीय सेना ने मुंहतोड़ जवाब दिया।

इससे पहले खबर आई थी कि जम्मू-कश्मीर के बटालिक सेक्टर में पहाड़ पर जमी बर्फ धंसने से भारतीय सेना की एक पोस्ट मलवे में दफ्न हो गई है। इस घटना में पांच सैनिक दब गए, जिसमें से दो सैनिकों को सुरक्षित बचा लिया गया जबकि दो जवानों की मौत हो गई। इसके अलावा एक सैनिक अभी लापता बताया जा रहा है। जानकारी के मुताबिक, गुरुवार को लद्दाख के बटालिक सेक्टर में भारी बर्फबारी हुई, जिसकी चपेट में एक आर्मी पोस्ट भी आ गई। इसमें सेना के पांच जवान फंस गए, जिसमें से दो को सुरक्षित निकाल लिया गया और दो जवान सुबह के समय मृत पाए गए। हालांकि एक जवान लापता है, जिसकी तलाश जारी है।

बता दें कि कश्मीर घाटी इस समय भारी बारिश और बाढ़ जैसी स्थिति का सामना भी कर रही है। यहां की झेलम व अन्य सहायक नदियां खतरे के निशान से ऊपर चल रही हैं। यहां पिछले तीन-चार दिन से लगातार बारिश हो रही है, इसके मद्देनजर अधिकारियों ने बाढ़ की चेतावनी जारी की है। वहीं, राज्य पुलिस ने समूची घाटी में 24 घंटे की आपातकालीन हेल्पलाइन की स्थापना की है और अपने कर्मियों को किसी भी तरह की संकट की स्थिति से निपटने के लिए हाई अलर्ट पर रखा है। पुलिस के एक प्रवक्ता ने बताया, ‘‘बाढ़ की स्थिति में लोगों को मदद उपलब्ध कराने के लिए पूरी घाटी के नियंत्रण कक्षों में आपातकालीन हेल्पलाइन की स्थापना की गयी है। ये नियंत्रण कक्ष हर दिन और 24 घंटे खुले रहेंगे।’ प्रवक्ता ने बताया कि पुलिस ने कई स्थानों पर बचाव अभियान चलाया है। उन्होंने बताया कि फंसे हुए लोगों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाने का कार्य जारी है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 यूपीः ट्रक की चपेट में आकर चार लोगों की मौत
2 महात्मा गांधी की चंपारण सत्याग्रह की स्मृति में 7 किलोमीटर तक पैदल चले नीतीश कुमार, साथ में रहे डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव
3 तमिलनाडु: ओ पन्‍नीरसेल्‍वम के नेतृत्‍व में अन्‍नाद्रमुक के धड़ों में विलय की चर्चा, शशिकला-दिनाकरण की हो सकती है छुट्टी
यह पढ़ा क्या?
X