ताज़ा खबर
 

सोहराबुद्दीन एनकाउंटर केस: डीजी वंजारा और दिनेश एमएन को सीबीआई कोर्ट ने किया बरी

सोहराबुद्दीन एनकाउंटर केस में मंगलवार (1 अगस्त) को फैसला आया।
IPS डीजी वंजारा की फाइल फोटो।

सोहराबुद्दीन एनकाउंटर केस में मंगलवार (1 अगस्त) को फैसला आया। इसमें मुंबई की सीबीआई कोर्ट ने डीजी वंजारा और दिनेश एमएन को बरी कर दिया है। दिनेश एमएन राजस्थान कैडर के आईपीएस हैं। वह सात साल जेल में रहे। मुंबई की एक स्पेशल कोर्ट केस की सुनवाई कर रही थी। मामले में कुछ और भी आरोपी हैं। जिनको बरी करने की याचिका पर विचार नहीं हुआ है। इस केस में कुल 38 लोगों का नाम आया था। वंजारा अब रिटायर हो गए हैं। इससे पहले वह गुजरात एटीएस के चीफ थे। अबतक कुल 15 आरोपियों को बरी किया जा चुका है। मुंबई की एक स्पेशल कोर्ट केस की सुनवाई कर रही थी। मामले में कुछ और भी आरोपी हैं। जिनको बरी करने की याचिका पर विचार नहीं हुआ है। इस केस में कुल 38 लोगों का नाम आया था।

क्या है सोहराबुद्दीन एनकाउंटर केस: नवंबर 2005 में शेख अपनी पत्नी कौसरबी और साथी तुलसीराम प्रजापति के साथ हैदराबाद से बस में बैठे थे। पुलिस की एक टीम ने बस का पीछा करके तीनों को बस से उतार लिया और उनको अहमदाबाद ले गए। जहां उनको मार दिया गया। सीआईडी का आरोप है कि पुलिस ने ऐसा दिखाने की कोशिश की कि शेख भाग रहे थे और उस दौरान उनको मारा गया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App