ताज़ा खबर
 

मोदी सरकार के मंत्री महेश शर्मा की ब्लैकमेलिंग में राष्ट्रकवि दिनकर की नातिन समाजसेवी उषा ठाकुर गिरफ्तार

केंद्रीय मंत्री महेश शर्मा को ब्लैकमेलिंग करने के मामले में पुलिस ने राष्ट्रकवि रामधारी सिंह दिनकर की नातिन समाजसेवी उषा ठाकुर को गिरफ्तार किया है। मामले में एक चैनल के मालिक और महिला पत्रकार की पहले ही गिरफ्तारी हो चुकी है।

महेश शर्मा ने इस मामले में पुलिस को शिकायत दी थी। (फाइल फोटो)

केंद्रीय मंत्री महेश शर्मा से ब्लैकमेंलिंग के मामले में पुलिस ने समाजसेवी उषा ठाकुर को गिरफ्तार किया है। मामला केंद्रीय मंत्री को चुनाव प्रचार से संबंधित बातचीत का स्टिंग कर ब्लैकमेल करने का है। इस मामले में पुलिस पहले ही आरोपी न्यूज चैनल के मालिक आलोक कुमार और महिला पत्रकार की गिरफ्तारी हो चुकी है।

इस मामले में आरोपी आलोक कुमार पहली बार उषा ठाकुर के साथ ही केंद्रीय मंत्री महेश शर्मा से मिला था। पुलिस आलोक कुमार व महिला पत्रकार नीशू से पूछताछ के बाद ही उषा ठाकुर को गिरफ्तार किया है। उषा ठाकुर राष्ट्रकवि रामधारी सिंह दिनकर की नातिन है। वे सेक्टर 31 में रहती हैं। पुलिस ने आरोपी चैनल के मालिक आलोक कुमार और महिला पत्रकार को कोलकाता से गिरफ्तार कर नोएडा लाई थी।

निठारी कांड को उठाया थाः उषा ठाकुर ने ही सबसे पहले निठारी से बच्चों के गायब होने के मामले को उठाया था। इस मामले के बाद ही वे चर्चा में आ गई थीं। मामले में एसएसपी वैभव कृष्ण का कहना है कि स्टिंग ऑपरेशन के मामले में मुख्य साजिशकर्ता के रूप में उषा ठाकुर को गिरफ्तार किया गया है।

एसएसपी ने कहा कि उषा ठाकुर ने ही केंद्रीय मंत्री से आलोक को टेक्सटाइल कंपनी के सीईओ बताकर मिलवाया था। हालांकि, उषा को मालूम था कि वह सीईओ नहीं है। इससे पहले महेश शर्मा के हवाले से कहा गया था कि वे उन्हें बड़ी बहन मानते हैं और उन्होंने उषा ठाकुर के खिलाफ कोई शिकायत नहीं की है। उन्होंने पुलिस जांच के परिणाम के बारे में जानकारी से इनकार किया।

क्या है मामलाः बंद हो चुके चैनल के मालिक आलोक कुमार 24 मई को केंद्रीय मंत्री का एक वीडियो बना लिया था। इसके आधार पर वह मंत्री को ब्लैकमेल कर दो करोड़ रुपये मांग रहा था। मास्टरमाइंड के रूप में आलोक ने महिला पत्रकार नीशू को केंद्रीय मंत्री के पास कैलाश अस्पताल में भेजा था। महेश शर्मा ने इसकी शिकायत एसएसपी वैभव कृष्ण से की। एसएसपी सेक्टर 27 स्थित कैलाश अस्पताल पहुंचे और नीशू को गिरफ्तार किया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App