Smuggle gold instead of drugs because bail is easier says MLA in Rajasthan - बीजेपी एमएलए की सलाह- तस्करी करनी ही है तो सोने की करो, बेल आसानी से मिलती है - Jansatta
ताज़ा खबर
 

बीजेपी एमएलए की सलाह- तस्करी करनी ही है तो सोने की करो, बेल आसानी से मिलती है

बकौल बीजेपी एमएलए, "अगर आप वाकई में कुछ अवैध धंधा चलाना चाहते हैं, तो सोने की तस्करी कीजिए। दोनों (सोने और ड्रग्स) की कीमतें बराबर हैं, मगर ड्रग्स के मुकाबले सोने में धंधा करना अधिक सुरक्षित है।"

जोधपुर के बिलारा शहर से अर्जुन लाल गर्ग बीजेपी विधायक हैं। सात मई को उनकी इस टिप्पणी से जुड़ा वीडियो रिकॉर्ड किया गया था। (फोटोः फेसबुक)

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के एक विधायक अटपटे बयान को लेकर विवादों में घिर गए हैं। उन्होंने लोगों को खुलेआम सलाह देते कहा था कि अगर तस्करी ही करनी है, तो सोने की करो। ड्रग्स की तस्करी के मुकाबले इसमें जमानत आसानी से मिल जाती है। बीजेपी एमएलए ने जब यह बयान दिया, उस दौरान कुछ लोगों ने उनका वीडियो बना लिया था। बुधवार (31 मई) को बीजेपी एमएलए का यही वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होता नजर आया।

यह मामला राजस्थान में जोधपुर जिले के बिलारा शहर का है। अर्जुन लाल गर्ग यहीं से बीजेपी एमएलए हैं। वायरल वीडियो में देवासी समुदाय के लोगों के सामने वह कहते दिखे, “ड्रग्स की तस्करी के बजाय सोने की तस्करी करने पर अगर कोई पकड़ा जाता है, तो उसे आसानी से बेल मिल जाती है।” यही नहीं, उन्होंने आगे कहा कि सोने की तस्करी करने की गिरफ्तार होना गर्व की बात होती है।

गर्ग ने इस टिप्पणी से पहले कहा था कि उन्हें हैरानी होती है कि जोधपुर की जेल में नारकोटिक्स एंड सायकोट्रोपिक सबस्टैंसेज (एनडीपीएस) एक्ट के अंतर्गत भारी संख्या में देवासी समुदाय के लोग बंद थे। उन्होंने कहा, “देवासियों ने ड्रग तस्करी के मामले में बाकी बिश्नोई समुदायों का रिकॉर्ड तोड़ दिया है।”

बकौल बीजेपी एमएलए, “अगर आप वाकई में कुछ अवैध धंधा चलाना चाहते हैं, तो सोने की तस्करी कीजिए। दोनों (सोने और ड्रग्स) की कीमतें बराबर हैं, मगर ड्रग्स के मुकाबले सोने में धंधा करना अधिक सुरक्षित है।”

रिपोर्ट्स के अनुसार, गर्ग के बयान से जुड़ी यह क्लिप सात मई को शहर के जैतवास गांव में आयोजित मंदिर के कार्यक्रम के दौरान रिकॉर्ड की गई थी। रायका महासभा के जिला सचिव सुखदेव देवासी ने इस पर बोले, “मैं इस बात से इत्तेफाक नहीं रखता कि जोधपुर जेल में देवासी समुदाय के लोग भारी संख्या में बंद हैं। बहरहाल कुछ भी हो, मगर तस्करी तो अपराध है।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App