ताज़ा खबर
 

गाजियाबाद में बुजुर्ग के साथ बदसलूकी, पुलिस ने कहा- तावीज़ को लेकर हुआ था विवाद, ट्विटर पर भी FIR

उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद जिले के लोनी में 5 जून को एक बुजुर्ग मुस्लिम व्यक्ति के साथ मारपीट की गई। पुलिस ने धार्मिक भावनाएं आहत करने के आरोप में ट्विटर और 9 अन्य पर एफआईआर भी दर्ज की है।

तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (फोटोः Freepik)

गाजियाबाद में बुजुर्ग के साथ बदसलूकी का वीडियो वारल होने के बाद पुलिस ने कहा है कि पिटाई करने वाले कुछ लड़के भी उसी समुदाय के थे और मामला तावीज़ को लेकर था। गाजियाबाद पुलिस ने बताया कि पीड़ित अब्दुल 5 जून को बेहटा, लोनी बॉर्डर पहुंचा था। पुलिस के मुताबिग बुजुर्ग तावीज़ बनाने के काम करता था। पोली, आरिफ, आदिल और मुशाबिद नाम के लड़कों ने उसकी पिटाई इसलिए की क्योंकि उनके मुताबिक तावीज़ का उल्टा असर हो गया था।

पुलिस ने बताया कि आरोपी परवेश गुज्जर की गिरफ्तारी की जा चुकी है जिसके साथ बुजुर्ग लोनी पहुंचा था। बाद में दो अन्य आरोपियों कल्लू और आदिल को भी गिरफ्तार कर लिया गया। गाजियाबाद पुलिस ने सोशल मीडिया पर भ्रामक खबर फैलाने और धार्मिक भावनाएं आहत करने के आरोप में 9 लोगों पर एफआईआर दर्ज की है। इसके अलावा पुलिस ने ट्विटर और एक न्यूज वेबसाइट के खिलाफ भी मामला दर्ज किया है।

दरअसल ट्विटर पर यह कहकर वीडियो वायरल किया जा रहा था कि बुजुर्ग को वंदे मातरम बोलने के लिए मजबूर किया जा रहा था। इसी वजह से लोगों ने उसगी दाढ़ी काट दी और पिटाई की। इस वीडियो में बुजुर्ग कुछ लोगों के आगे हाथ जोड़ रहा था। पर लोग उसकी पिटाई किए जा रहे थे। इसके बाद एक और वीडियो वायरल हुआ जिसमें आरोप लगाया गया कि पीड़ित से धर्म विशेष के नारे लगवाए गए।

वीडियो में कम से कम दो अन्य युवकों को भी बुजुर्ग पर हमला करते हुए देखा गया। जो कि एक काली शर्ट और लाल पैंट पहने हुए है, और दूसरा हल्के नीले रंग की टी-शर्ट और ग्रे पैंट में है। बुजुर्ग ने बताया था,”मैं अपने रास्ते पर था जब मुझे लिफ्ट की पेशकश की गई। दो और आदमी अंदर (ऑटो रिक्शा) आए और मुझे बैठने के लिए कहा। फिर वे मुझे एक कमरे में ले गए और मुझे बंद कर दिया और मुझे पीटा। उन्होंने मुझे नारे लगाने के लिए मजबूर किया। उन्होंने मेरा मोबाइल छीन लिया… उन्होंने एक चाकू ले लिया और मेरी दाढ़ी काट दी। ”

हालांकि पुलिस ने इन बातों को ख़ारिज किया है। घटना का वीडियो वायरल होने के बाद राहुल गांधी ने भी योगी सरकार प र निशाना साधा था।

लोनी के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी अतुल कुमार सोनकर ने कहा था कि कि “आवश्यक कदम” उठाए जा रहे हैं। गाजियाबाद पुलिस ने जानकारी दी कि वीडियो वायरल के संबंध में पीड़ित की तहरीर पर पूर्व में ही अभियोग थाना लोनी बॉर्डर पर पंजीकृत है मुख्य अभियुक्त वर्तमान में जेल में निरुद्ध है। अन्य अभियुक्त गण की शीघ्र गिरफ्तारी कर प्रकरण में आगे की कार्रवाई की जाएगी।

Next Stories
1 तेलंगाना के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री ई. राजेंद्र बीजेपी में शामिल, मुख्यमंत्री से चल रहे थे नाराज
2 मिशन गुजरात पर अरविंद केजरीवाल, बोले- सभी 182 सीटों पर लड़ेंगे विधानसभा चुनाव
3 राजस्थानः MLA ने जड़ दिया हेड कॉन्स्टेबल को तमाचा, “दो कौड़ी का पुलिस वाला” बता कहा- हिम्मत कैसे हुए हमारे आदमी को रोकने की?
आज का राशिफल
X