ताज़ा खबर
 

राष्ट्रीय पात्रता परीक्षा पर चुप्पी बरकरार, अभ्यर्थी परेशान

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की ओर से साल में दो बार आयोजित होने वाली विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) राष्ट्रीय पात्रता परीक्षा (नेट) जुलाई-अगस्त में होगी या नहीं यह अभी स्पष्ट नहीं है।
Author नई दिल्ली | April 22, 2017 00:55 am

सुशील राघव
केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की ओर से साल में दो बार आयोजित होने वाली विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) राष्ट्रीय पात्रता परीक्षा (नेट) जुलाई-अगस्त में होगी या नहीं यह अभी स्पष्ट नहीं है। सूत्रों के मुताबिक, सीबीएसई ने काम के दबाव को देखते हुए इस परीक्षा को इस बार आयोजित करने से मना कर दिया है। इसे लेकर ऐसे अभ्यर्थी बहुत परेशान हैं जो कई महीनों से इस परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं। अगर ऐसा हुआ तो 33 सालों में पहली बार होगा जब नेट का आयोजन नहीं होगा। हालांकि सीबीएसई की ओर से इस संबंध में अभी तक कोई आधिकारिक घोषणा नहीं हुई है।  दिल्ली विश्वविद्यालय से हिंदी से एमए करने वाले दिनेश कुमार ने बताया कि वे कई महीनों से नेट की तैयारी कर रहे हैं। अगर इस बार इस परीक्षा का आयोजन नहीं हुआ तो उन्हें समय के साथ-साथ आर्थिक नुकसान भी झेलना पड़ेगा।

वहीं जामिया मिल्लिया इस्लामिया से अंग्रेजी में एमए करने वाले इम्तियाज भी जुलाई-अगस्त में होने वाली परीक्षा के लिए जोर-शोर से तैयारी कर रहे हैं। लेकिन जब से उन्होंने इस खबर के बारे में सुना हैं, मासूस हैं। इम्तियाज का कहना है कि वे बिहार से आकर यहां पढ़ रहे हैं, परिवार के पास इतना पैसा नहीं है कि हमें अब पढ़ाते ही रहें। उन्होंने कहा कि ऐसे में मेरे सामने बहुत बड़ी परेशानी आने वाली है। दिनेश और इम्तियाज ऐसे अकेले अभ्यर्थी नहीं हैं जो इस खबर के बाद से चिंतित हैं क्योंकि नेट की परीक्षा को हर बार आठ लाख के करीब विद्यार्थी देते हैं। यह परीक्षा 80 से ज्यादा विषयों में करीब 90 शहरों में आयोजित की जाती है।

सीबीएसई के चेयरमैन राजेश चतुर्वेदी पूर्व में कई बार कह चुके हैं कि सीबीएसई पर बाहर की परीक्षाओं का बहुत दबाव है जिसकी वजह से हम पूरा ध्यान स्कूल शिक्षा पर नहीं लगा पाते हैं। गौरतलब है कि कक्षा 10 और 12 की बोर्ड परीक्षाओं के अलावा सीबीएसई केंद्रीय अध्यापक पात्रता परीक्षा (सीटेट), इंजीनियरिंग कॉलेज की प्रवेश परीक्षा यानी संयुक्त प्रवेश परीक्षा (जेईई) और मेडिकल कॉलेजों में प्रवेश के लिए राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा (नीट) का आयोजन हर साल करता है। इसके अलावा इस साल केंद्रीय विद्यालय संगठन और जवाहर नवोदय विद्यालय की भर्ती परीक्षा का भी आयोजन सीबीएसई ने ही किया बाकी पेज 8 पर उङ्मल्ल३्र४ी ३ङ्म स्रँी 8
था। हालांकि सीबीएसई ने केवीएस और जेएनवी को साफ शब्दों में कह दिया था कि बोर्ड उनकी भर्ती परीक्षा अंतिम बार आयोजित कर रहा है। केंद्र सरकार की ओर से बजट में की गई राष्ट्रीय परीक्षा एजंसी की घोषणा के बाद सीबीएसई को कुछ राहत की उम्मीद थी लेकिन अभी उस पर अमल होता दिखाई नहीं दे रहा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.