कर्नाटक: गठबंधन सरकार गिराने के लिए बागी विधायकों को उकसाने वाली खबरों से सिद्धरमैया का इनकार

सिद्धरमैया ने कहा ‘‘मीडिया घराने खबर दे रहे हैं कि कुछ बागी विधायकों ने दावा किया है कि उन्हें इस्तीफा देने और सरकार को अस्थिर करने के लिए मैंने उकसाया है। यह और कुछ नहीं बल्कि बुरी मंशा के साथ लगाया गया झूठा आरोप है।

Author बेंगलुरू | Updated: July 25, 2019 7:09 PM
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धरमैया

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धरमैया ने उन खबरों से बृहस्पतिवार को इनकार किया जिनमें दावा किया गया है कि बागी विधायकों को इस्तीफा देने तथा एच डी कुमारस्वामी के नेतृत्व वाली गठबंधन सरकार को गिराने के लिए उन्होंने उकसाया था। सिद्धरमैया ने ‘‘फर्जी खबरें’’ फैलाने के लिये मीडिया संगठनों को आगाह करते हुए कहा कि अगर उन्होंने यह आरोप उनके सामने दोहराया तो वह इसका करारा जवाब देंगे। कर्नाटक में कांग्रेस के दिग्गज नेता माने जाने वाले सिद्धरमैया ने एक के बाद एक ट्वीट कर कहा कि बागी विधायक ‘‘आरोप मुझ पर मढ़ने का प्रयास कर रहे हैं लेकिन एक बार सच सामने आने के बाद सारे संदेह दूर हो जाएंगे।’’

उन्होंने कहा, ‘‘मीडिया घराने खबर दे रहे हैं कि कुछ बागी विधायकों ने दावा किया है कि उन्हें इस्तीफा देने और सरकार को अस्थिर करने के लिए मैंने उकसाया है। यह और कुछ नहीं बल्कि बुरी मंशा के साथ लगाया गया झूठा आरोप है। अगर उन्होंने मेरे सामने इसे दोहराया तो मैं उन्हें करारा जवाब दूंगा।’’ सिद्धरमैया ने कहा, ‘‘बागी विधायकों पर जनादेश एवं पार्टी के साथ विश्वासघात करने एवं पीठ में छुरा घोंपने के लिए व्यापक स्तर पर फैले आक्रोश के बाद वे सभी आरोप मेरे मत्थे मढ़ना चाहते हैं।

आशंका के बादल छंटने पर सब सच सामने आ जाएगा लेकिन तब तक सब खत्म हो चुका होगा।’’ मुख्यमंत्री के तौर पर अपने कार्यकाल को याद करते हुए उन्होंने कहा कि उनके खिलाफ बहुत से निराधार आरोप लगे – ‘‘लेकिन जनता की सेवा करने के लिए उन्होंने वह जहर पी लिया।’’ सिद्धरमैया ने कहा, ‘‘समय हर चीज का जवाब देगा। सत्यमेव जयते।’’ गठबंधन सरकार की समन्वय समिति के प्रमुख के तौर पर सिद्धरमैया पर आरोप लगते रहे कि उन्होंने कांग्रेस एवं जद (एस) के प्रदेश अध्यक्षों को अपने नेतृत्व वाली समिति का हिस्सा नहीं बनने दिया।

Next Stories
1 8 दिनों में 12 लाख कांवड़ियों ने किया जलाभिषेक, रोजाना सुबह पौने चार बजे खुलता है बाबा बैद्यनाथ मंदिर
2 मध्यप्रदेश भाजपा विधायक दल में सब कुछ अनुकूल और नियंत्रण में है: राकेश सिंह
3 यूपी: छेड़छाड़ की शिकायत दर्ज कराने गई थी युवती, हेड कॉन्स्टेबल ने पूछा- इतना फैशन करती ही क्यों हो?
यह पढ़ा क्या?
X