scorecardresearch

Srikant Tyagi case: पीड़ित महिला ने शेयर किया वीडियो, कहा- त्यागी वर्सेस अग्रवाल न बनाएं, बीजेपी के सारे लोग बुरे नहीं होते

Srikant Tyagi case: पीड़िता एना अग्रवाल ने वीडियो जारी करते हुए कहा है कि घटना का किसी जाति या राजनीति से संबंध नहीं है। इसको त्यागी बनाम अग्रवाल करना गलत है। सभी बीजेपी वाले बुरे नहीं होते।

Srikant Tyagi case: पीड़ित महिला ने शेयर किया वीडियो, कहा- त्यागी वर्सेस अग्रवाल न बनाएं, बीजेपी के सारे लोग बुरे नहीं होते
Srikant Tyagi case: महिला से अभद्र व्यवहार करने का आरोपी श्रीकांत त्यागी (फोटो सोर्स- The Indian express)

Shrikant Tyagi case: यूपी स्थिति नोएडा के ग्रैंड ओमेक्स सोसाइटी में महिला के साथ अभद्रता करने वाले श्रीकांत त्यागी को पुलिस ने बीते दिनों गिरफ्तार किया था। उसके बाद से श्रीकांत त्यागी के समर्थन की खबरें आ रहीं है। जिसके बाद जिस महिला से श्रीकांत त्यागी ने बदसलूकी की थी। अब उस महिला ने एक वीडियो जारी किया है।

पीड़िता एना अग्रवाल ने वीडियो जारी करते हुए कहा है कि घटना का किसी जाति या राजनीति से संबंध नहीं है। इसको किसी जाति-राजनीति से जोड़कर न देखा जाए। इस घटना को त्यागी बनाम अग्रवाल करना गलत है। सभी बीजेपी वाले बुरे नहीं होते।

उन्होंने इस वीडियो में श्रीकांत त्यागी को लेकर कहा कि किसी का मर्डर करके सॉरी बोलने से चीजे खत्म नहीं होती हैं। त्यागी ने गलत किया, उसकी उनको सजा मिली है। श्रीकांत त्यागी ने धमकी दी कि मैं तुम्हारा कुछ भी करुंगा, कोई तुम्हारे साथ नहीं खड़ा होगा. पर मेरे साथ पूरी सोसाइटी खड़ी थी, लेकिन हमारी इस लड़ाई को राजनीतिक मुद्दा न बनाया जाए। बीजेपी को इस घटना से जोड़कर देखना गलत है। सभी त्यागी खराब नहीं होते हैं और न ही सभी अग्रवाल बहुत अच्छे होते हैं।

पीड़ित ने कहा, ‘अगर पहले नोएडा पुलिस ने एक्शन लिया होता तो ये बात इतनी नहीं बढती। मेरी सोसाइटी के लोग और गार्ड उनसे नहीं डरे होते तो इतनी बात नहीं फैलती। ये बात मीडिया में चली गई, तब इस चारों ओर फैली।’

एना अग्रवाल ने कहा, ‘मैं मीडिया का धन्यवाद करना चाहती हूं। अगर मीडिया ने सच नहीं बोला होता तो बात इतनी नहीं फैलती। उसने मेरे साथ गलत किया था, इसलिए उसे सजा मिल रही है। उसने बहुत लोगों के साथ गलत किया था। इसको राजनीति मुद्दा नहीं बनाया जाए। इस मामले में एक-दूसरे को दोष न दें।”

बता दें, श्रीकांत त्यागी के समर्थन में त्यागी समाज लामबंद होने लगा है। पिछले दिनों मुजफ्फरनगर के सोहंजनी तगान गांव में जो पोस्टर लगाएं गए थे, उनमें साफ शब्दों में लिखा था कि यह एतिहासिक गांव, त्यागियों का गांव है, बीजेपी नेताओं का इस गांव में प्रवेश बंद है। बायकाट बीजेपी। और अंत में पोस्टर पर लिखा है- ‘हम सब की भूल-कमल का फूल। वहीं साइड में बीजेपी का सिंबल यानी कमल का फूल बना है, जिसके ऊपर क्रास बना है।

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.