ताज़ा खबर
 

MP : शिवराज ने कांग्रेस सरकार को दी चेतावनी, कहा- मेरी योजनाएं चालू नहीं रखीं तो ईंट से ईंट बजा दूंगा

मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह लगातार चर्चा में बने हुए हैं। चुनाव हारने के बावजूद वे लगातार लोगों से मिल रहे हैं और उनके लिए लड़ने का दावा कर रहे हैं। उन्होंने कांग्रेस सरकार को चेतावनी देते हुए कहा, ‘‘मेरी योजनाओं को चालू रखें, नहीं तो मैं ईंट से ईंट बजा दूंगा।

शिवराज सिंह चौहान, फोटो सोर्स- सोशल मीडिया

मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह लगातार चर्चा में बने हुए हैं। चुनाव हारने के बावजूद वे लगातार लोगों से मिल रहे हैं और उनके लिए लड़ने का दावा कर रहे हैं। उन्होंने रविवार को बुधनी विधानसभा क्षेत्र का दौरा किया और कई गांवों में पहुंचकर मतदाताओं का आभार जताया। बता दें कि रास्ता कच्चा होने के कारण शिवराज बाइक से सुरई गांव पहुंचे। इस दौरान उन्होंने कांग्रेस सरकार को चेतावनी देते हुए कहा, ‘‘मेरी योजनाओं को चालू रखें, नहीं तो मैं ईंट से ईंट बजा दूंगा।’’

शिवराज ने फिर दोहराया डायलॉग : शिवराज ने ग्रामीणों से बातचीत के दौरान कहा, ‘‘आपको चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है। टाइगर अभी जिंदा है। मैं पहले कलम से काम करता था। अब लड़कर काम कराऊंगा। जो काम पहले से मंजूर हैं, उन्हें पूरा कराया जाएगा। मेरी जितनी भी योजनाएं हैं, उनके लिए कांग्रेस के मुख्यमंत्री से बोला है। किसान की कर्जमाफी पर फिलहाल सरकार का रवैया ढुलमूल है।’’

कर्जमाफी पर उठाया सवाल : शिवराज ने कहा, ‘‘नए सीएम कभी कहते हैं कि डिफॉल्टर्स का कर्ज माफ करेंगे। कभी कहते हैं कि 31 मार्च तक का कर्ज माफ करेंगे। मैंने उनसे कहा है कि हम तो अब तक का पूरा कर्जा माफ करवाएंगे।’’

कंधों पर उठाकर गांव में ले गए लोग : शिवराज अपने बेटे कार्तिकेय के साथ बनियागांव और खजूरी पहुंचे तो लोग उन्हें कंधों पर उठाकर ले गए। पूर्व मुख्यमंत्री को मुख्य सड़क से कार्यक्रमस्थल तक कंधों पर उठाकर ले जाया गया।

 

कमलनाथ बोले- हम बताएंगे हकीकत : राज्य में यूरिया संकट को लेकर सीएम कमलनाथ ने कहा, ‘‘इस मामले में हम कोई आरोप-प्रत्यारोप नहीं लगाना चाहते हैं। अगर बीजेपी इसके लिए हमें जिम्मेदार ठहराएगी तो हकीकत जरूर बताएंगे। पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने खुद कह चुके हैं कि 15 दिसंबर तक 4.64 लाख मीट्रिक टन यूरिया प्रदेश में सप्लाई किया गया। वहीं, पिछले साल इस अवधि तक 3.81 लाख मीट्रिक टन यूरिया आया था। ऐसे में स्पष्ट है कि केंद्र ने विधानसभा चुनाव के मद्देनजर इस साल ज्यादा यूरिया सप्लाई किया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 करगिल: सेना की यूनिट के खिलाफ कश्‍मीर पुलिस ने दर्ज की एफआईआर
2 महाराष्ट्र : नितिन गडकरी ने कहा- एक ट्रांसजेंडर को बच्चा हो सकता है, लेकिन यह सिंचाई परियोजना पूरी नहीं होगी
3 राजनीति : गैर बीजेपी-कांग्रेस वाले तीसरे मोर्चे के पक्ष में केसीआर, नवीन पटनायक के बाद आज ममता से मिलने की तैयारी
ये पढ़ा क्या?
X