ताज़ा खबर
 

अमिताभ बच्चन की क्वालिफिकेशन पर शिवराज चौहान कह गए कुछ ऐसा, कांग्रेस बोली- भोपाल के दामाद की बेइज्जती

कांग्रेस ने शिवराज सिंह के इस बयान को हाथों-हाथ लिया और इसे भोपाल के जमाई की बेइज्जती करार दिया। बता दें कि जया बच्चन भोपाल की रहने वाली हैं।

शिवराज सिंह चौहान ने अमिताभ बच्चन की शिक्षा पर दिया बयान। (express photo)

मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान शुक्रवार को छात्रों को प्रोत्साहित करने के चक्कर में कुछ ऐसा कह गए, जिससे अमिताभ बच्चन के प्रशंसक नाराज हो सकते हैं। दरअसल शिवराज सिंह ने अमिताभ बच्चन को ऐसी शख्सीयत बताया जो पढ़ाई में थोड़ा कमजोर रहे, लेकिन अपने जीवन में जिन्होंने कमाल की सफलता हासिल की। चूंकि मध्य प्रदेश में जल्द ही विधानसभा चुनाव होने हैं, ऐसे में कांग्रेस ने शिवराज सिंह के इस बयान को हाथों-हाथ लिया और इसे भोपाल के जमाई की बेइज्जती करार दिया। बता दें कि जया बच्चन भोपाल की रहने वाली हैं।

बता दें कि भोपाल में एक करियर काउंसिलिंग प्रोग्राम के दौरान मध्य प्रदेश के सीएम ऐसे छात्रों को प्रोत्साहित करने की कोशिश कर रहे थे, जिनके बोर्ड एग्जाम में 70 प्रतिशत से कम अंक आए हैं। इस दौरान चौहान ने महान कवि कालिदास, नोबेल पुरस्कार विजेता रबिंद्रनाथ टैगोर और सचिन तेंदुलकर का जिक्र करते हुए कहा कि ये लोग पढ़ाई में उतने अच्छे नहीं थे, लेकिन इन्होंने अपने-अपने क्षेत्रों में उल्लेखनीय सफलता हासिल की। शेरवुड कॉलेज और किरोड़ीमल कॉलेज के एलुमनी रहे अमिताभ बच्चन का उदाहरण देते हुए शिवराज सिंह ने कहा कि “आप सभी ने बॉलीवुड सुपरस्टार अमिताभ बच्चन का नाम सुना होगा, जिन्होंने कौन बनेगा करोड़पति कार्यक्रम को होस्ट किया था। उन्होंने कोई अच्छी औपचारिक डिग्रियां हासिल नहीं की थी, वह एक बार वह उनकी आवाज के लिए आकाशवाणी द्वारा रिजेक्ट कर दिए गए थे, लेकिन आज वह अपनी आवाज के कारण ही प्रसिद्ध हैं।”

वहीं अमिताभ बच्चन की शिक्षा पर सवाल उठाने वाले शिवराज सिंह चौहान अपने इस बयान के लिए विपक्ष के निशाने पर आ गए हैं। विपक्ष के नेता अजय सिंह का कहना है कि “यह भोपाल के दामाद का अपमान है। मुझे समझ नहीं आता मुख्यमंत्री इस तरह की बयानबाजी क्यों कर रहे हैं? जब अमिताभ बच्चन ने काम करना शुरु कर दिया था, उस वक्त शिवराज सिंह चौहान बच्चे थे।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App