scorecardresearch

ये दोस्ती…मध्य प्रदेश विधानसभा ‘भुट्टा पार्टी’, जब शिवराज और विजयवर्गीय हाथ पकड़ गाने लगे गाना

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय सुपरहिट फिल्म ‘शोले’ का एवरग्रीन सॉन्ग ‘ये दोस्ती हम नहीं तोड़ेंगे…’ गाते हुए दिखाई दिए।

Madhya Pradesh Shivraj Singh Chauhan Kailash Vijay vargiya
एक साथ गीत गुनगुनाते हुए शिवराज सिंह चौहान और कैलाश विजयवर्गीय । Photo Source- Screen Grab
राजनीति में सार्वजनिक तौर पर ऐसी तस्वीरें कम ही देखने को मिलती हैं जब नेतागण हाथों में हाथ थामें किसी फिल्म के गीत गाते हुए दोस्ती की कसमें खाएं। मध्य प्रदेश में ऐसा ही नजारा देखने को मिला। बुधवार को राजधानी भोपाल में एक भुट्टा पार्टी का आयोजन किया गया था। इस कार्यक्रम में मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय सुपरहिट फिल्म ‘शोले’ का एवरग्रीन सॉन्ग ‘ये दोस्ती हम नहीं तोड़ेंगे…’ गाते हुए दिखाई दिए। अब यह वीडियो सोशल मीडिया पर खूब साझा किया जा रहा है।

कैलाश विजयवर्गीय विरोधियों पर बरसने के साथ साथ अपनी सुरीली आवाज के लिए भी जाने जाते हैं। भुट्टा पार्टी के दौरान कई नेताओं के हाथ में माइक थे और बैकग्राउंड में फिल्मों की धुनें बज रही थी। इसी दौरान कैलाश विजय वर्गीय ने पार्टी नेताओं के बीच शिवराज सिंह को अपने साथ गाना गाने के लिए आमंत्रित किया। शिवराज सिंह ने विजयवर्गीय के आग्रह को स्वीकार करते हुए सुर में सुर मिलाना शुरू कर दिया। थोड़ी ही देर में वहां मौजूद सभी लोग गुनगुनाने लगे।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने इस गाने को ट्वीट करते हुए लिखा कि ये दोस्ती हम नहीं तोड़ेंगे, साथ ही उन्होंने शोले फिल्म के कलाकार अमिताभ बच्चन और धर्मेंद्र को भी टैग किया। वहीं यह वीडियो कैलाश विजयवर्गीय ने भी साझा किया। उन्होंने लिखा कि युवा मोर्चा के दौरान अक्सर यह गीत गाया करते थे, भुट्टा पार्टी के दौरान इस गीत को गुनगुना कर पुराने दिन याद आ गए।

जहां एक तरफ कैलाश विजयवर्गीय के भोपाल में रहने के सियासी माय़ने खोजे जा रहे थे तो वहीं दूसरी तरफ इस वीडियो ने इन सुगबुगाहटों को विराम दे दिया। दरअसल कैलाश विजयवर्गीय को पश्चिम बंगाल चुनाव के बाद कोई नई जिम्मेदारी नहीं मिली है। बुधवार को उन्होंने कई मंत्रियों और एक पूर्व मंत्री से मुलाकात की। इन नेताओं को शिवराज खेमे का नहीं माना जाता है। हालांकि कैलाश विजयवर्गीय औऱ सीएम चौहान ने भी अलग मुलाकात की।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि भुट्टा पार्टी में सत्ता पक्ष के साथ साथ विपक्ष के नेता भी नजर आए। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भी विजयवर्गीय के साथ कुल पल बिताए।

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट