ताज़ा खबर
 

हम बुरे ही ठीक हैं, अच्छे थे तब कौन सा मेडल मिल गया; महाराष्ट्र की राजनीति पर बोले संजय राउत

ShivSena, Maharashtra Government Formation: कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के वरिष्ठ नेताओं की मैराथन बैठक और सोनिया गांधी की हरी झंडी मिलने के बाद दोनों पार्टियों ने बुधवार को ऐलान किया कि वे जल्द ही राज्य में शिवसेना के साथ मिलकर नई सरकर का गठन करेंगे।

Author मुंबई | Updated: November 21, 2019 8:00 AM
शिवसेना नेता संजय राउत (फोटो सोर्स -इंडियन एक्सप्रेस)

ShivSena, Maharashtra Government Formation: महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर चल रही कवायद के बीच एक बड़ी खबर सामने आई है। जिसके मुताबिक, मुख्यमंत्री (CM) का पद शिवसेना और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के बीच बारी-बारी से साझा किया जाएगा। पहले ढाई साल मुख्यमंत्री शिवसेना का होगा और उसके बाद के ढाई साल में यह पद NCP को मिलेगा। मीडिया में चल रही इन खबरों के बीच शिवसेना नेता और सांसद संजय राउत ने एक बार फिर से ट्वीट किया है। इस बार उन्होंने अलग अंदाज में अपनी बात कही है।

क्या बोले संजय राउत: शिवसेना के फायरब्रांड नेता संजय राउत बीते कई दिनों से बीजेपी पर तीखे वार कर रहे हैं। कभी वह दुष्यंत कुमार का शेर पढ़कर बीजेपी पर तंज कसते हैं तो अभी अटल बिहारी वाजपेई की कविता से। लेकिन इस बार कुछ अलग अंदाज में अपनी बात कही है। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा- “हम बुरे ही ठीक हैं, जब अच्छे थे तब कौन सा मेडल मिल गया था।” गौरतलब है कि महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर शिवसेना, कांग्रेस-एनसीपी के बीच मंथन जारी है।

Hindi News Today, 21 November 2019 LIVE Updates: आज की बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें

पहले किया था यह ट्वीट: इसके पहले राउत ने अटल बिहारी वाजपेई की कविता के माध्यम से अपनी बात राखी थी। उन्होंने लिखा- “आहुति बाकी, यज्ञ अधूरा,अपनों के विघ्नों ने घेरा। अंतिम जय का वज्र बनाने, नव दधीचि हड्डियां गलाएं।आओ फिर से दिया जलाएं।” साथ ही उन्होंने यह भी लिखा कि अगर जिंदगी में कुछ पाना है तो तरीके बदलो इरादे नहीं।

सरकार बनाने को लेकर मंथन जारी: कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के वरिष्ठ नेताओं की मैराथन बैठक और सोनिया गांधी की हरी झंडी मिलने के बाद दोनों पार्टियों ने बुधवार को ऐलान किया कि वे जल्द ही राज्य में शिवसेना के साथ मिलकर नई सरकर का गठन करेंगे। गत 24 अक्टूबर को राज्य विधानसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद यह पहली बार है कि कांग्रेस और राकांपा ने खुलकर यह घोषणा की है कि वे महाराष्ट्र में शिवसेना के साथ सरकार बनाने जा रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 होमगार्ड ड्यूटी घोटाले में पांच अफसर गिरफ्तार
2 स्वामी नित्यानंद के खिलाफ मुकदमा दर्ज, दो गिरफ्तार
3 सृजन घोटाला: बैंक ऑफ बड़ौदा पर लगा ढाई करोड़ का जुर्माना
जस्‍ट नाउ
X