ताज़ा खबर
 

योगी सरकार पर शिवसेना का हमला, कहा- खुद ‘ऑक्सीजन पर’ जीने वाले मरीजों के लिए कहां से लाएंगे

शिवसेना ने उत्तर प्रदेश के दो अस्पतालों में हुई कई बच्चों की मौत को लेकर राज्य की भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए आज कहा कि प्रदेश की स्वास्थ्य सेवा ‘देवदूत’ की बजाय ‘यमदूत’ है।

Author मुंबई | September 5, 2017 3:07 PM
BMC Election Result 2017: शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे।

शिवसेना ने उत्तर प्रदेश के दो अस्पतालों में हुई कई बच्चों की मौत को लेकर राज्य की भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए आज कहा कि प्रदेश की स्वास्थ्य सेवा ‘देवदूत’ की बजाय ‘यमदूत’ है। पार्टी ने यह भी आरोप लगाए कि अगर सरकारी तंत्र खुद ‘‘आॅक्सीजन पर’’ जी रहा हो तो वह मरीजों को कैसे आॅक्सीजन मुहैया कराएगा। अधिकारियों ने कल कहा कि उत्तर प्रदेश के फरूर्खाबाद जिले में एक महीने में कम से कम 49 शिशुओं की मौत हो गयी जिनमें से अधिकतर की मौत ‘‘पेरीनैटल एस्फिजिया’’ के कारण हुई। पेरीनैटल एस्फिजिया एक स्वास्थ्य दशा है जिसमें नवजात शिशुओं को सांस लेने में दिक्कत होती है।

गोरखपुर में पिछले महीने एक सरकारी अस्पताल में दो दिन में 30 बच्चों की मौत हुई थी और उसी त्रासदी के दोहराव का संकेत करते हुए फरूर्खाबाद में कई अभिभावकों ने अधिकारियों से कहा कि शिशुओं को आॅक्सीजन एवं दवाएं मुहैया कराने में देरी हुई। शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना के एक संपादकीय में कहा, ‘‘स्वास्थ्य सेवा को देवदूत होना चाहिए लेकिन उत्तर प्रदेश में वह यमदूत साबित हुई।

HOT DEALS
  • Gionee X1 16GB Gold
    ₹ 8990 MRP ₹ 10349 -13%
    ₹1349 Cashback
  • Sony Xperia L2 32 GB (Gold)
    ₹ 14845 MRP ₹ 20990 -29%
    ₹0 Cashback

पार्टी ने कहा, ‘‘करीब छह साल पहले जब पश्चिम बंगाल में एक पखवाड़े के भीतर 50 बच्चों की मौत हुई थी तब ममता बनर्जी सरकार की कड़ी आलोचना करने वाले अब उत्तर प्रदेश में सत्ता में हैं।’’ शिवसेना ने कहा कि दो अस्पतालों में कथित रूप से आॅक्सीजन की आपूर्ति के कारण बच्चों के मारे जाने से उत्तर प्रदेश में स्वास्थ्य सेवाओं की गुणवत्ता को लेकर प्रश्नचिह्न खड़े होते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App