ताज़ा खबर
 

भाजपा पर भड़का एनडीए का पुराना सहयोगी SAD, सुखबीर बादल बोले- BJP है देश का असली टुकड़े टुकड़े गैंग

शिअद नेता ने कहा कि जिन लोगों ने किसानों के लिए कानून बनाया है उनका जिंदगी में खेती की ही नहीं है। उन्होंने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार अफसरों के इशारे पर चल रही है।

SAD, modi govt, farmers protest, Sukhbir singh badadशिरोमणि अकाली दल नेता सुखबीर सिंह बादल। (फाइल फोटो)

तीन कृषि कानूनों के खिलाफ राजधानी दिल्ली की विभिन्न सीमाओं पर किसानों का आंदोलन जारी है। इस बीच एनडीए के पुराने सहयोगी रहे शिरोमणि अकाली दल ने भाजपा पर बड़ा हमला बोला है।

शिअद नेता सरदार सुखबीर सिंह बादल ने कहा कि हम जय जवान-जय किसान कहते हैं। आज जवान भी आंदोलन में उतर गया है और किसान भी आंदोलन कर रहा है। अब आप क्या चाहते हैं? सुखबीर ने कहा कि भाजपा सरकार को अपने अहंकारी रवैये से पीछे हटकर किसानों से बातचीत करनी चाहिए।

शिअद नेता ने कहा कि जिन लोगों ने किसानों के लिए कानून बनाया है उनका जिंदगी में खेती की ही नहीं है। उन्होंने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार अफसरों के इशारे पर चल रही है। बादल ने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार लोगों को धर्म के आधार पर बांटने की कोशिश कर रही है।

उन्होंने कहा कि ये जो टुकड़े-टुकड़े गैंग कहते हैं, जो उनकी सरकार के हक में होता है तो वह देशभक्त होता है, जो उनके हक में नहीं होता है वह उसे टुकड़े-टुकड़े गैंग का बता देते हैं। सुखबीर बादल ने कहा कि सही मायनों में असली टुकड़े-टुकड़े गैंग भाजपा ही है। उन्होंने कहा कि पहले इन्होंने हिंदू और मुसलमान के रिश्तों को टुकड़े-टुकड़े किया।

अब जानबूझ कर हिंदू और सिख के बीच भेद करने की कोशिश कर रहे हैं। सुखबीर ने कहा कि शिरोमणि अकाली दल इस बात को बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं करेगा। पंजाब में भाईचारे को खत्म करने की कोशिश को पूरा नहीं होने दिया जाएगा। इसके लिए शिअद किसी भी तरह की कुर्बानी के लिए तैयार है।

उन्होंने कहा कि शिरोमणि अकाली दल पंजाबियों की जान है। पंजाब भाईचारे के साथ अमन से रहता है। सुखबीर बादल ने कहा कि मैं भाजपा को यह चेतावनी देना चाहता हूं कि छोटी-छोटी बात पर भाइयों को मत लड़ाओ। वो जो किसान प्रदर्शन करने बैठे हैं वो किसान देशभक्त हैं।

Next Stories
1 Repuplic TV पर ना मिला मौका तो बोले ‘SAD’ सिरसा- लिख दो कि मैं कुछ कह नहीं सकता, अर्नब का जवाब- 18 दिन हो गए, पूरे देश में बहुत गुस्सा है
2 किसान मुद्दों का जल्द समाधान करिए, प्रदर्शन की वजह से रोज हो रहा 3500 करोड़ का नुकसान; ASSOCHAM ने की सरकार से अपील
3 मजे हो रहे हैं…लग रहा है मेला खुल गया है दिवाली का- किसान आंदोलन में पिज्जा लेकर मसाज चेयर को लेकर तंज कसने लगे अर्नब
ये पढ़ा क्या?
X