ताज़ा खबर
 

किसानों की समस्या का हल नहीं हुआ तो किसी भी केंद्रीय मंत्री को महाराष्ट्र में घुसने नहीं देंगे, शेतकारी संगठन ने दी धमकी

महाराष्ट्र की स्थानीय पार्टी स्वाभिमानी शेतकारी संगठन सत्ताधारी महाविकास अघाड़ी गठबंधन का हिस्सा है।

Shetkari Sangathan, Raju Shettiशेतकारी संगठन के प्रमुख राजू शेट्टी। (फाइल फोटो)

महाराष्ट्र के एक स्थानीय दल- स्वाभिमानी शेतकारी संगठन ने मंगलवार को कृषि कानून को लेकर केंद्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किए। पार्टी की ओर से कहा गया कि कोल्हापुर, पुणे और औरंगाबाद में पंजाब और हरियाणा के आंदोलनकारी किसानों के समर्थन में प्रदर्शन किए गए। इतना ही नहीं शेतकारी संगठन के अध्यक्ष राजू शेट्टी ने चेतावनी दी कि अगर किसानों की समस्याओं का निपटारा नहीं हुआ, तो वे केंद्रीय मंत्रियों को महाराष्ट्र में घुसने नहीं देंगे।

मीडिया से बातचीत के दौरान शेट्टी ने कहा, “सुधार के नाम पर केंद्र कॉरपोरेट और बड़े बिजनेस हाउस को ताकत देना चाहती है। इससे किसानों को ताकतवर बनने के बजाय वे और ज्यादा कमजोर कर रहे हैं। किसान इनकी वजह से बड़े व्यापारी घरानों की दया पर ही निर्भर रह जाएगा।” शेट्टी ने कहा कि कृषि कानून में न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) का भी जिक्र नहीं है, जो कि किसानों की वित्तीय स्थिरता के लिए आधारभूत जरूरत है।

महाराष्ट्र में महाविकास अघाड़ी गठबंधन में शामिल शेतकारी संगठन के प्रमुख ने कहा, “केंद्र सरकार को यह समझ लेना चाहिए कि किसानों के प्रदर्शन सि्रफ पंजाब या हरियाणा तक सीमित नहीं हैं। महाराष्ट्र समेत पूरे देश के किसान इस आंदोलन के समर्थन में हैं। अगर केंद्र किसानों के मुद्दों को नहीं सुलझा पाता है, तो हम उन्हें महाराष्ट्र में घुसने नहीं देंगे और जहां भी उनके कार्यक्रम या बैठकें चल रही होंगी, वहां घुसकर उन्हें जबरदस्ती खत्म करा देंगे।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 राज्यसभा उपचुनाव: लोजपा ने ठुकराया राजद का ऑफर, RJD में उम्मीदवार उतारने पर एक राय नहीं, आज पर्चा भरेंगे सुशील मोदी
2 उर्मिला मातोंडकर के सियासी सफर की दूसरी पारीः अब ज्वॉइन कर ली Shivsena, साल भर पहले छोड़ा था कांग्रेस का हाथ
3 VIDEO: भाजपा विधायक के विवादित बोल, कहा- सबसे बड़ा झूठ है मजहब नहीं सिखाता आपस में बैर रखना
ये पढ़ा क्या?
X