ताज़ा खबर
 

शीना मामला: इंद्राणी की जमानत पर सुनवाई 31 मार्च तक टली

इंद्राणी मुखर्जी के वकील ने चिकित्सकीय आधार पर जमानत मांगी थी और कहा था कि वह बार बार बेहोश होने की समस्या से ग्रस्त है।
Author मुंबई | March 23, 2016 20:28 pm
स्टार टीवी के पूर्व मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) पीटर मुखर्जी और पत्नी इंद्रानी मुखर्जी। (File Source: Bharatstudent.com)

सीबीआई की विशेष अदालत ने शीना बोरा हत्याकांड में मुख्य आरोपी इंद्राणी मुखर्जी की जमानत अर्जी पर सुनवाई को बुधवार (23 मार्च) को 31 मार्च तक स्थगित कर दिया। 43 वर्षीय इंद्राणी ने पिछले महीने आवेदन दाखिल कर चिकित्सकीय आधार पर जमानत मांगी थी और कहा था कि वह बार बार बेहोश होने की समस्या से ग्रस्त है। मामला जब बुधवार को सुनवाई के लिए आया तो इंद्राणी के वकील महेश जेठमलानी ने तर्क दिया कि आठ डॉक्टरों के पैनल का 21-22 फरवरी को दिया गया बयान जनवरी की मेडिकल रिपोर्ट के आधार पर था, उसकी लगातार बिगड़ती हालत के आधार पर नहीं। उन्होंने कहा कि इंद्राणी की समस्या सुलझ नहीं रहीं जो चिंता की बात है। उन्होंने इंद्राणी के स्वास्थ्य की ताजा स्थिति की जांच की अपील की।

जेठमलानी ने कहा कि वे किसी चीज का विरोध नहीं कर रहे और किसी रिपोर्ट के खिलाफ उन्हें कोई शिकायत नहीं है और वह चाहते हैं कि एक फिजिशियन, न्यूरोलॉजिस्ट और कार्डियोलॉजिस्ट उनकी जांच करें।

जेठमलानी के तर्क का विरोध करते हुए अभियोजन पक्ष ने उसकी कुछ हालिया मेडिकल रिपोर्ट अदालत में पेश कीं और कहा कि उन पर 24 घंटे नजर रखी गयी है। दलीलों को सुनने के बाद न्यायाधीश एच एस महाजन ने सुनवाई 31 मार्च तक के लिए स्थगित कर दी।

अपनी 17 पन्ने की जमानत अर्जी में इंद्राणी ने कहा था कि उसकी सेहत बिगड़ रही है और चार महीने में उसका 18 किलोग्राम वजन कम हो चुका है। उसने यह भी कहा था कि वह तनावमुक्त वातावरण में रहना चाहती है। शीना हत्याकांड में कथित भूमिका को लेकर इंद्राणी के पति पीटर मुखर्जी को भी पिछले साल 19 नवंबर को गिरफ्तार किया गया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.