ताज़ा खबर
 

अयोध्‍या: बाबरी मस्जिद विध्‍वंस की बरसी पर ‘शौर्य दिवस’ मनाएगा VHP, ‘गीता जयंती’ मनाने की भी तैयारी

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए ‘धर्म सभा’ आयोजन के कुछ दिन बाद विश्व हिंदू परिषद छह दिसंबर को शौर्य दिवस मनाएगा और 18 दिसंबर को गीता जयंती समारोह मनाया जाएगा।

लखनऊ | Updated: December 3, 2018 4:42 PM
अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए ‘धर्म सभा’ आयोजन के कुछ दिन बाद विश्व हिंदू परिषद छह दिसंबर को शौर्य दिवस मनाएगा (Photo-PTI)

अगले साल होने वाले लोकसभा चुनावों से पहले सभी की नजर अयोध्या पर हैं जहां राम मंदिर को लेकर नये सिरे से माहौल बन रहा है और आगामी छह दिसंबर को बाबरी मस्जिद विध्वंस की बरसी पर कई कार्यक्रम यहां आयोजित किये जाएंगे।  अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए ‘धर्म सभा’ आयोजन के कुछ दिन बाद विश्व हिंदू परिषद छह दिसंबर को शौर्य दिवस मनाएगा और 18 दिसंबर को गीता जयंती समारोह मनाया जाएगा। अयोध्या में विहिप के प्रवक्ता शरद शर्मा ने पीटीआई से कहा, ‘‘शौर्य दिवस परंपरागत रूप से मनाया जाएगा। अयोध्या में अन्य हिंदू संगठनों के साथ विहिप ‘हवन’ समेत कई धार्मिक आयोजन कर सकती है ताकि अयोध्या में भगवान राम का भव्य मंदिर बने।’’ इस साल बाबरी मस्जिद विध्वंस के 26 साल पूरे होंगे।

शर्मा ने बताया, ‘‘मां सरस्वती की विशेष प्रार्थना की जाएगी ताकि वह लोगों की, खासकर नेताओं की राम मंदिर निर्माण के रास्ते से कोई भी बाधा हटाने में मदद करें।’’ उन्होंने कहा, ‘‘सर्व बाधा मुक्ति हवन किया जाएगा। गोलियां खाने वाले कारसेवकों को श्रद्धांजलि भी दी जाएगी।’’ विहिप नेता ने बताया कि दिल्ली में नौ दिसंबर को धर्म सभा का आयोजन किया जाएगा जिसमें पांच लाख से अधिक लोग भाग ले सकते हैं। उन्होंने कहा, ‘‘हम 31 जनवरी और एक फरवरी को प्रयागराज में धर्म संसद का आयोजन करेंगे जिसमें देशभर से 5000 से ज्यादा साधु-संत भाग लेंगे। दक्षिणी और पूर्वोत्तर राज्यों के संत भी विशेष रूप से आमंत्रित होंगे।’’ विहिप प्रवक्ता ने कहा कि धर्म संसद में राम मंदिर, गोसंरक्षण और गंगा नदी पर विचार-विमर्श किया जाएगा।

उन्होंने कहा, ‘‘सामाजिक सौहार्द के विषय पर भी विस्तार से चर्चा होगी।’’ उन्होंने कहा, ‘‘धर्म सभा के माध्यम से हम यह संदेश देने में सफल रहे कि ंिहदू समाज अयोध्या में भव्य राम मंदिर निर्माण चाहता है।’’ शर्मा ने कहा कि आगे की रणनीति 2019 में प्रयागराज में कुंभ मेले में तय की जाएगी। निर्मोही अखाड़े के महंत रामदास ने कहा कि अयोध्या के करीब 500 प्रमुख आश्रम छह दिसंबर को रोशनी से जगमगाएंगे। उन्होंने कहा, ‘‘हम शौर्य दिवस मनाएंगे क्योंकि इसी दिन राम जन्मभूमि को एक मुगल ढांचे से मुक्त कराया गया था। हम इस दिन शहर के करीब 500 प्रमुख आश्रमों में घी के दीये जलाएंगे।’’

Next Stories
1 Rajasthan Election: 30 साल से BJP का मजबूत गढ़ है हाड़ौती, इन कारणों से हिल सकता है किला
2 Rajasthan Election: BJP के गढ़ हाड़ौती में सेंधमारी की कोशिश में कांग्रेस, संघ संभाल सकता है मोर्चा
3 बुलंदशहरः गोमांस की अफवाह पर बवाल, पथराव-फायरिंग में इंस्पेक्टर समेत 2 की मौत
ये पढ़ा क्या?
X