scorecardresearch

केरलः महिला कांग्रेस कार्यकर्ताओं का जब हाथ पकड़ थिरकने लगे शशि थरूर, VIDEO देख लोग करने लगे ऐसे कमेंट्स

थरूर ने गुजरात में पाटीदार नेता और राज्य में कांग्रेस पार्टी के कार्यवाहक अध्यक्ष रहे हार्दिक पटेल के इस्तीफे पर निराशा जताई। कहा कि वह हमारे लिए ऊर्जावान युवा नेता हैं।

Congress, Shashi Tharoor
केरल में आयोजित पार्टी कार्यक्रम में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शशि थरूर। (फोटो- फेसबुक)

कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता शशि थरूर अपनी बेबाक टिप्पणी और अंदाज के लिए मशहूर हैं। वे जहां भी जाते हैं, वहां चर्चा में आ जाते हैं। पार्टी के अंदर और पार्टी के बाहर भी वह छाए रहते हैं। कभी अंग्रेजी के बड़े-बड़े और कठिन शब्दों को सामने लाते हैं तो कभी अपनी पर्सनल लाइफ पर लोगों के कमेंट का तीखा जवाब देकर वह मीडिया में भी सूर्खी बटोरते रहते हैं।

केरल में महिला कांग्रेस कार्यकर्ताओं के एक कार्यक्रम के दौरान पार्टी के वरिष्ठ नेता शशि थरूर साथी महिला कार्यकर्ता का हाथ पकड़कर जमकर थिरके। इसका वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर हुआ तो यूजरों ने कई तरह के कमेंट किए। प्रणेश झा@praneshjha5 नाम के यूजर ने बोला, “भवरा फूल देख कर खुद को रोक कहां पाता है।”

माधवी गौर@madhaavee ने कहा, “हह्हाहा कुछ भी कह दे मिडिया तो। ये अनोखा है तो फूहड़ क्या है।” मिस्टर लॉजिकल@kshatriya_patil ने कमेंट किया, “अनोखा नही… चिरपरिचित अंदाज..” पी शुक्ला@PShukla37197485 ने कहा, “शाबाश शशि थरूर जी, अलाह ताला आप की जवानी सलामत रखें।” शकीर सैय्यद@SamarSayyed4 ने लिखा, “देश में कुछ भी हो यहां तो मौज शुरू रहती है।”

हाल ही में गुजरात में पाटीदार नेता और राज्य में कांग्रेस पार्टी के कार्यवाहक अध्यक्ष रहे हार्दिक पटेल के इस्तीफे पर उन्होंने निराशा जताई। कहा कि “मैं उनसे मिला हूं और उस युवक से प्रभावित हुआ हूं, जिसमें बहुत जुनून, बहुत बुद्धिमत्ता और बहुत प्रभावी योगदान देने की क्षमता है। तो यह हमारे लिए नुकसान है। दरअसल पार्टी के किसी भी मूल्यवान सदस्य को खोना हमें नुकसान कर देता है। सभी ने कुछ न कुछ योगदान दिया है या कुछ योगदान कर सकते हैं और उन्हें खोना अच्छा नहीं है।”

जी-23 के बारे में उन्होंने कहा कि “सच कहूं तो मुझे उदयपुर के तुरंत बाद केरल आना पड़ा और मुझे उन सभी के साथ बैठकर बात करने का मौका नहीं मिला। मैंने महसूस किया है कि कुल मिलाकर यह एक प्रतीक्षा और घड़ी की प्रतिक्रिया है। मैं अन्य सभी के लिए नहीं बोलना चाहता, क्योंकि ईमानदारी से मैं पिछले ढाई दिनों से केरल की राजनीति में पूरी तरह से डूबा हुआ हूं … मेरे विचार से, कई सुधारवादी हमेशा से केवल पार्टी को मजबूत करने में रुचि रखते थे।”

उन्होंने कहा कि “इसे पुनर्जीवित करना, इसे सक्रिय करना और इसे उन मूल्यों और सिद्धांतों का एक अधिक प्रभावी साधन बनाने की कोशिश करना, जिन्हें हम सभी प्रिय मानते हैं।”

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट