ताज़ा खबर
 

कांग्रेस सांसद शशि थरुर ने की मछुआरों को नोबेल पुस्कार देने की मांग

कांग्रेस नेता शशि थरूर ने केरल के उन मछुआरों की नोबेल शांति पुरस्कार के लिए अनुशंसा की है जिन्होंने 2018 में राज्य में आई बाढ़ के दौरान बचाव कार्यों में मदद की थी।

Author Updated: February 7, 2019 11:02 AM
2019 में केरल के मछुआरों को मिलना चाहिए नोबेल पुरस्कार

कांग्रेस नेता शशि थरूर ने केरल के उन मछुआरों की नोबेल शांति पुरस्कार के लिए अनुशंसा की है जिन्होंने 2018 में राज्य में आई बाढ़ के दौरान बचाव कार्यों में मदद की थी। तिरुवनंतपुरम से लोकसभा सदस्य थरूर ने नॉर्वे की नोबेल समिति के अध्यक्ष को पत्र लिखा है, जिसमें उन्होंने कहा है कि केरल के मछुआरों का समूह त्रासदी के दौरान अपनी जान और अपनी जीविका के साधन नौकाओं की परवाह किए बिना नागरिकों को बचाने के काम में जुट गए।
थरूर ने कहा कि मछुआरे अपनी नौकाओं को अंदरूनी इलाकों में ले गए और स्थानीय स्थितियों की बेहतर जानकारी होने के वजह से राहत कार्य में उनकी हिस्सेदारी काफी सहायक साबित हुई।

सांसद ने कहा कि उन्होंने अपने आस-पड़ोस में फंसे हुए कर्मियों की न सिर्फ सहायता की बल्कि बचाव टीमों की नौकाओं का मार्गदर्शन भी किया। उन्होंने कहा कि उनकी बाढ़ के दौरान लोगों की जान बचाने की सेवा स्पष्ट तौर पर दिखी। बता दें कि केरल में 29 मई से शुरू हुई मॉनसूनी बारिश के बाद से 417 लोगों ने जान गंवाई थीं, जबकि 8.69 लाख लोगों की धन-संपत्ति सब कुछ तबाह हो गया था।

उन दिनों केरल को दुनिया भर के लोगों ने फंड पहुंचाया था। इस दौरान इंडियन आर्मी, इंडियन एयरफोर्स, इंडियन नेवी और एनडीआरएफ की टीम के अलावा केरल के मछुआरों ने भी अपना अहम योगदान दिया था। राज्य में उपजे बाढ़ के हालात के दौरान मछिुआरों ने राहत बचाव कार्य के दौरान लोगों की काफी मदद दी की थी, जिसे नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है।

 

भाषा के इनपुट के साथ।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 महाराष्ट्रः वर्जिनिटी टेस्ट को दंडनीय अपराध किया जाएगा घोषित
2 दिल्ली में स्वाइन फ्लू का कहर, अब तक सामने आए 1100 मामले
3 Delhi: मेटल स्क्रैप से बने दुनिया के 7 अजूबे, 4.7 करोड़ रुपए हुए खर्च, जानें क्या होगा खास