scorecardresearch

उम्मीद: एशिया के इकलौते रेशम संस्थान में फिर होगी सेरीकल्चर की पढ़ाई, भागलपुर में वर्षों से बंद इमारत में शुरू हुई अफसरों की आवाजाही

उद्योग विभाग के आलाधिकारियों ने शनिवार को संस्थान का दौरा कर मौजूदा स्थिति और पढ़ाई की संभावनाओं का जायजा लिया।

उम्मीद: एशिया के इकलौते रेशम संस्थान में फिर होगी सेरीकल्चर की पढ़ाई, भागलपुर में वर्षों से बंद इमारत में शुरू हुई अफसरों की आवाजाही
वर्षों से बंद रहे भागलपुर के वस्त्र व रेशम संस्थान का जायजा लेने पहुंची प्रधान सचिव के नेतृत्व में आई उद्योग विभाग की टीम।

भागलपुर के वस्त्र और रेशम संस्थान का उद्योग विभाग के आलाधिकारियों ने शनिवार को जायजा लिया। उद्योग विभाग के प्रधान सचिव संदीप पॉन्ड्रिक ने पत्रकारों को बताया कि वर्षों से बंद पड़े रेशम एवं वस्त्र संस्थान को पुनः शुरू करने की दिशा में प्रयास शुरू किया गया है। उन्होंने उम्मीद जताई की जल्द ही इसके दिन बहुरेंगे। कहा कि यहां फिर से पढ़ाई-लिखाई की संभावना तलाशी जा रही है।

यह एशिया का इकलौता संस्थान है, जहां कभी सेरीकल्चर की स्नातकोत्तर स्तर की पढ़ाई होती थी। मगर लालू-राबड़ी राज में यह बंद हो गया था। नीतीश सरकार ने भी इसके लिए कोई खास कुछ नहीं किया। अब जब से बिहार के उद्योग मंत्रालय पर शाहनवाज हुसैन ने चार्ज संभाला है, तब से इस संस्थान को फिर से चालू करने की दिशा में ध्यान दिया जा रहा है।

उन्होंने मंत्री पद संभालते ही संस्थान की बंद पड़ी इमारत का दौरा किया था। तब उन्होंने इस जल्द शुरू करने का भरोसा दिया था। अफसरों का दौरा उसी कड़ी की पहल है।

प्रधान सचिव ने कहा कि संस्थान को फिर से शुरू करने और पढ़ाई-लिखाई के विषयों का जायजा लेने के लिए यह निरीक्षण किया गया है। इस सिलसिले में विभागीय एवं राज्य सरकार के स्तर पर विचार-विमर्श के बाद शुरू करने की दिशा में आगे निर्णय लिया जाएगा।

रेशम एवं वस्त्र संस्थान नाथनगर में पुनः पढ़ाई शुरू करने के संबंध में उद्योग विभाग के प्रधान सचिव ने कहा कि साइंस एंड टेक्नोलॉजी विभाग के साथ मिल कर यहां कुछ विषयों की पढ़ाई शुरु की जा सकती है। साथ ही उन्होंने कहा कि सिल्क उत्पादन एवं कारोबार से जुड़े जिन लोगों के पास सामान्य आधारभूत संरचना की कमी है, उद्योग विभाग उन लोगों को मदद करने की कोशिश कर रहा है। इसके लिए सर्वे भी कराया जा रहा है। और आवेदन भी मांगे गए है।

उन्होंने बताया कि जिलाधिकारी व उद्योग विभाग के अन्य पदाधिकारियों के साथ इन सब मुद्दों पर बैठक की जाएगी। साथ ही जिले में उद्योग को बढ़ावा देने की मंशा से मुख्यमंत्री उद्यमी योजना के लाभार्थियों एवं शहर के बरारी स्थित बियाडा इंडस्ट्रियल एरिया के पदाधिकारियों के साथ भी बैठक की जाएगी।

प्रधान सचिव के साथ राज्य के हस्तकरघा एवं रेशम केंद्र निदेशक पंकज दीक्षित, जिला उद्योग केंद्र के महाप्रबंधक संजय कुमार वर्मा एवं सदर एसडीओ धनंजय कुमार मौजूद रहे।

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट