ताज़ा खबर
 

लोकसभा चुनावः सीट शेयरिंग पर महागठबंधन में मंथन, तेजस्वी ने दिए संकेत जल्द होगा ऐलान

महागठबंधन की बैठक में कांग्रेस से शक्ति सिंह गोहिल, आरजेडी की तरफ से तेजस्वी के अलावा शिवानंद तिवारी और अब्दुल बारी सिद्दीकी, हिंदुस्तान अवाम मोर्चा की तरफ से जीतन राम मांझी और वीआईपी के मुकेश सहनी ने शिरकत की।

Author January 8, 2019 11:25 AM
बिहार में महागठबंधन (फोटोः @yadavtejashwi)

बिहार की सियासत में एनडीए के बाद अब महागठबंधन में हलचल होने वाली है। रिपोर्ट्स के मुताबिक मकर संक्रांति के बाद अब महागठबंधन में भी सीटों का बंटवारा हो सकता है। सोमवार को आरजेडी नेता तेजस्वी यादव के आवास पर इस संबंध में एक बैठक हुई थी। बैठक के बाद तेजस्वी ने बिहार की 40 लोकसभा सीटों को लेकर गठबंधन के दलों में बंटवारा जल्द किए जाने के संकेत दिए।

…इन्होंने किया महागठबंधन पर मंथनः बैठक में कांग्रेस से शक्ति सिंह गोहिल, आरजेडी की तरफ से तेजस्वी के अलावा शिवानंद तिवारी और अब्दुल बारी सिद्दीकी, हिंदुस्तान अवाम मोर्चा की तरफ से जीतन राम मांझी और वीआईपी के मुकेश सहनी ने शिरकत की। फिलहाल वाम दलों की तरफ से इस बैठक में किसी ने हिस्सा नहीं लिया।

इस बार अलग है महागठबंधन का रूपः गौरतलब है कि बिहार में हुआ पिछला विधानसभा चुनाव महागठबंधन के नाम रहा था। तब आरजेडी, जेडीयू और कांग्रेस ने मिलकर सरकार बनाई थी। लेकिन बाद में जेडीयू ने महागठबंधन से अलग होकर फिर से एनडीयू का दामन थाम लिया। अब तक मोदी सरकार में शामिल रहे उपेंद्र कुशवाहा हाल ही में महागठबंधन में शामिल हो गए हैं। इस बार लालू यादव भी पहले जितने सक्रिय नहीं हैं। ऐसे में अब महागठबंधन का स्वरूप बिलकुल अलग है।

तेजस्वी का तंजः बैठक के बाद तेजस्वी ने भाजपा और जेडीयू पर तंज कसते हुए कहा जो बराबर-बराबर का समझौता किए हैं उन्हें चुनाव में जनता बराबर कर देगी। गौरतलब है कि हाल ही में एनडीए में भी सीटों का बंटवारा हुआ था। एनडीए में इस बार भाजपा 17, जेडीयू 17 और रामविलास पासवान की लोक जनशक्ति पार्टी छह सीटों पर चुनाव लड़ेगी।

लोकसभा चुनाव 2014 में ऐसे थे नतीजेः मोदी लहर के चलते पिछली बार बिहार में 22 सीटें अकेले भाजपा के नाम रही थी। वहीं एलजेपी को छह, आरजेडी को चार, रालोसपा को तीन, कांग्रेस-जेडीयू को दो-दो और एनसीपी को एक सीट मिली थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App