ताज़ा खबर
 

मथुरा : भीषण गर्मी और उमस से बेहोश हो गए 7 छात्र, एक की नाक से निकलने लगा खून

गुरुवार को गर्मी और उमस से मथुरा के अलग-अलग प्राथमिक विद्यालयों के सात बच्चे बेहोश हो गए। इसके बाद सभी को तत्काल उपचार के लिए अस्पताल ले जाया गया।

schoolप्रतीकात्मक फोटो फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

देशभर में मॉनसून के आने के बाद भी गर्मियों से आम लोग बेहाल हैं। उत्तर प्रदेश के मथुरा में भीषण गर्मी से 7 स्कूली बच्चों के बेहोश हो जाने की खबर है। बताया जा रहा है कि गुरुवार (04 जुलाई  2019)  को गर्मी और उमस से मथुरा के अलग-अलग प्राथमिक विद्यालयों के 7 बच्चे बेहोश हो गए। इसके बाद सभी को तत्काल उपचार के लिए अस्पताल ले जाया गया।

दरअसल, गुरुवार को मथुरा में सुबह से ही भीषण गर्मी और उमस थी। दोपहर होते-होते गर्मी इस कदर बढ़ गई कि आम लोगों को गर्मी बर्दाश्त करना मुश्किल होने लगा। इस दौरान मथुरा के अलग-अलग प्राथमिक विद्यालयों में 7 बच्चे भीषण गर्मी की वजह से बेहोश हो गए। वहीं, एक बच्चे की नाक से खून निकलने लगा। बेहोश हुए कुछ बच्चों को प्राथमिक उपचार के बाद घर भेज दिया गया। वहीं, जिन बच्चों की हालत ज्यादा बिगड़ती नजर आई, उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया।

National Hindi News, 05 July 2019 LIVE Updates: पढ़ें आज की बड़ी खबरें 

मथुरा के जिला मुख्यालय ने बताया कि गुरुवार की सुबह वृन्दावन कोतवाली क्षेत्र के अरहेरा गांव के प्राथमिक विद्यालय में तीसरी कक्षा के छात्र अंकित की नाक से अचानक खून बहने लगा। उसे तुरंत उपचार के लिए ले जाया गया। हाईवे थाना क्षेत्र के बिरजापुर गांव के प्राथमिक विद्यालय में प्रार्थना के समय पांचवी कक्षा की छात्रा संजना बेहोश होकर गिर गई। छात्रा को पानी पिलाया गया और सामान्य होने पर फिर उसे घर भेज दिया गया। बता दें कि प्राथमिक विद्यालय चंद्र नगर में भी पांच बच्चों के बेहोश होने की सूचना मिली है। विद्यालय के प्रधानाध्यापक विजयवीर सिंह ने बताया कि गर्मी के कारण बच्चों की तबियत खराब हो रही है। कुछ बच्चों को तो प्राथमिक उपचार के बाद घर भेज दिया गया जबकि अन्य को अस्पताल ले जाना पड़ा। कई बच्चों की हालत स्कूल से घर लौटते वक्त स्कूल वैन में बिगड़ गई।

मौसम में आई बदलाव : बता दें कि अब मथुरा में मौसम में थोड़े बदलाव आएं हैं जिससे आम लोगों को काफी रहत है। जिला शिक्षाधिकारी ने बताया कि गर्मी से स्कूलों में बच्चों के बेहोश होने की जानकारी मिली है लेकिन अब मौसम में काफी बदलाव आ गया है। सभी विद्यालयों को निर्देशित किया गया है कि ऐसी स्थिति में तुरंत उपचार कराएं और घटना की जानकारी बेसिक शिक्षा कार्यालय और बच्चे के परिजन को दें।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 दिल्ली: कड़कड़डूमा में एक सरकारी बिल्डिंग में भीषण आग, फायर ब्रिगेड की 22 गाड़ियां मौके पर
2 MP: एम्बुलेंस के इंतजार में तड़पती रही गर्भवती, रिक्शे पर दिया बच्चे को जन्म