योगी आदित्यनाथ को ओपी राजभर की धमकी, बोले- 6 इंच खाली पाप का घड़ा, 2022 के बाद कुर्क कराऊंगा संपत्ति

ओपी राजभर ने कहा कि बीजेपी नेता निर्लज हो चुके हैं। इन के खिलाफ जो बोलता है, उसको धमकाने की कोशिश की जाती है। उन्होंने कहा कि अभी मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर संपत्ति कुर्क कराने की बात कही है। 2022 मैं उनकी संपत्ति कुर्क कराउंगा।

Om Prakash Rajbhar, CM Yogi
मंहगाई से लेकर बेरोजगारी तक के मामलों को लेकर ओपी राजभर ने सीएम योगी का किया घेराव। Photo- Indian Express

सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को धमकी दी है कि जल्द ही बीजेपी के पाप का घड़ा भरने वाला है और उसे वह खुद फोड़ेंगे, राजभर ने सीएम योगी की संपत्ति कुर्क कराने की बात भी कही है। वाराणसी में महंगाई के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान उन्होंने कहा कि जनता मंहगाई से परेशान है। एलपीजी से लेकर पेट्रोल और सरसो के तेल के दामों में हुई बढ़ोतरी को लेकर सरकार को घेरते हुए राजभर ने कहा जब तक अटल बिहारी वाजपेयी थे तब तक यह भारतीय जनता पार्टी थी, अब यह जुमलों वाली पार्टी, भारतीय झूठ पार्टी हो गई है।

सीएम योगी का घेराव करते हुए सुभासपा प्रमुख ने कहा कि योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट करके 1 करोड़ 61 लाख लोगों को रोजगार देने की बात कही है, पता नहीं सीएम ने यह नौकरियां कहां दी है, क्या मंदिर में दी है या समुद्र में पानी पीटने के लिए दी है। उन्होंने कहा कि दुनिया में दो ही लोग झूठे हैं। एक देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और दूसरे सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ। राजभर के अनुसार कि बीजेपी के पाप का घड़ा तेजी से भर रहा है। दो महीने में यह भर जाएगा तो इसको यहीं बनारस से फोड़ूगा।

ओपी राजभर ने कहा कि बीजेपी नेता निर्लज हो चुके हैं। इन के खिलाफ जो बोलता है, उसको धमकाने की कोशिश की जाती है। उन्होंने कहा कि अभी मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर संपत्ति कुर्क कराने की बात कही है। 2022 मैं उनकी संपत्ति कुर्क कराउंगा। बताते चलें कि सीएम योगी ने ट्वीट कर कहा था कि जिसको अपनी प्रॉपर्टी जब्त करवानी हो वो गलत काम करे।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि उत्तर प्रदेश में सियासी गहमा गहमी का दौर तेज हो चला है। आगामी चुनावों को लेकर असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी AIMIM और ओम प्रकाश राजभर के दल सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के बीच गठबंधन का ऐलान किया गया है। ओवैसी सूबे की 100 विधानसभा सीटों पर अपने प्रत्याशी उतारने का ऐलान कर चुके हैं लेकिन राजभर का कहना है कि अभी सीट बंटवारें को लेकर कोई चर्चा नहीं हुई है।

बताते चलें कि अगले कुछ महीनों में होने वाले चुनावों को लेकर सभी पार्टियां युद्धस्तर पर काम कर रही हैं। एक तरफ जहां सत्तारूढ़ दल बीजेपी है तो वहीं दूसरी तरफ अखिलेश यादव अपनी तैयारियों में जुटे हुए हैं। मायावती भी सियासी उधेड़बुन कर सत्ता के शिखर पर पहुंचने की कवायद में जुटी हुई हैं। ओपी राजभर और ओवैसी के साथ आ जाने से कई दलों का सियासी खेल बिगड़ने की संभावना जताई जा रही है।

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट