scorecardresearch

कर्नाटक में फिर बवाल, अब Tumakuru में फाड़ा गया सावरकर का पोस्टर, हाई अलर्ट पर पुलिस

Savarkar poster torn in Karnataka Tumakuru: कर्नाटक के शिवमोगा के बाद अब तुमकुरु में सवारकर का पोस्टर फाड़े जाने का मामला सामने आ रहा है।

कर्नाटक में फिर बवाल, अब Tumakuru में फाड़ा गया सावरकर का पोस्टर, हाई अलर्ट पर पुलिस
Savarkar poster torn in Tumakuru: सावरकर का पोस्टर स्वतंत्रता दिवस समारोह पर लगाया गया था। (फोटो सोर्स: सोशल मीडिया)

Savarkar poster torn in Karnataka Tumakuru: कर्नाटक के तुमकुरु में मंगलवार (16 अगस्त, 2022) को विनायक दामोदर सावरकर का एक पोस्टर फाड़ दिया गया था। इससे एक दिन पहले स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर एक समूह द्वारा कथित तौर पर सावरकर के पोस्टर हटाने के बाद शिवमोगा में हिंसा भड़की थी।

बता दें, सोमवार को 76वें स्वतंत्रता दिवस समारोह के अवसर पर एक समूह ने शिवमोगा के अमीर अहमद सर्कल में सावरकर के फ्लेक्स को लगाने की कोशिश की। जिस पर दूसरे समूह ने आपत्ति जताई और वहां टीपू सुल्तान के फ्लेक्स को स्थापित करना चाहा था।

जिसके बाद इलाके में तनाव बढ़ गया और हिंसा में एक व्यक्ति की मौत हो गई। स्थिति को नियंत्रित करने और भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस को हल्का लाठीचार्ज करना पड़ा। कर्नाटक पुलिस ने मंगलवार को शिवमोगा जिले में हुई चाकूबाजी के मामले में चार लोगों को गिरफ्तार किया है। वहीं हिंसा के बाद इलाके धारा 144 लागू कर दी गई थी। जो 18 अगस्त तक प्रभावी रहेगी।

कर्नाटक के एडीजीपी आलोक कुमार कहा कि हम लोगों से अपील करते हैं कि अनावश्यक रूप से बाहर नहीं निकलें। आरोपियों की संपत्ति जब्त करने के लिए कलेक्टर को लिखा जाएगा। शहर में पर्याप्त पुलिस बल तैनात किया गया है। 15 प्लाटून तैनात कर दी गई है। हालात नियंत्रण में हैं।

शिवमोगा हिंसा पर कर्नाटक के गृह मंत्री अरागा ज्ञानेंद्र ने कहा कि किसी को भी किसी भी कीमत पर कानून अपने हाथ में नहीं लेना चाहिए। सावरकर का पोस्टर लगाने में क्या गलत है? उन्होंने देश की आजादी के लिए लड़ाई लड़ी। अब तक 4 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है।

उन्होंने कहा कि हम धर्म के आधार पर कुछ भी तय नहीं करते हैं। शांति बनी रहनी चाहिए, हमें राज्य में कानून-व्यवस्था बनाए रखनी है। हम गहन जांच करेंगे। यहां दोबारा ऐसी कोई घटना नहीं होनी चाहिए। इससे पहले गृह मंत्री ज्ञानेंद्र ने एडीजीपी कानून-व्यवस्था और अन्य वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के साथ एक अहम बैठक की।

शिवमोगा की घटना को लेकर राज्य के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने कहा कि जब जांच चल रही है तो इस मामले पर टिप्पणी करना सही नहीं है। मैंने पुलिस को कड़ी जांच करने का निर्देश दिया है।

पढें राज्य (Rajya News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट