ताज़ा खबर
 

जुनून से बाहर आएं केजरीवाल: उपाध्याय

दिल्ली भाजपा अध्यक्ष सतीश उपाध्याय ने कहा है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को आत्म जुनून से बाहर आने की जरूरत है।

Author नई दिल्ली | Published on: December 19, 2015 12:19 AM

दिल्ली भाजपा अध्यक्ष सतीश उपाध्याय ने कहा है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को आत्म जुनून से बाहर आने की जरूरत है। उपाध्याय शुक्रवार को कनाट प्लेस में केजरीवाल सरकार के खिलाफ दिल्ली भाजपा के पोल खोल अभियान के दौरान लोगों को संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि दिल्ली के लोग केजरीवाल के बार-बार झूठे प्रचार से गुमराह हो गए कि वह सच्चाई और ईमानदारी के वास्तविक रक्षक हैं। जनता ने उन्हें बड़ा जनादेश दिया। सत्ता में आने के बाद केजरीवाल जनता से बहुत दूर हो चुके हैं। अब यह समझते हैं कि वह जनता को आसानी से बेवकूफ बना सकते हैं क्योंकि जनता से झूठे वायदे करके उन्हें ठगने में महारत हासिल है। उपाध्याय ने केजरीवाल की पार्टी की निंदा करते हुए कहा कि यह पार्टी महत्त्वपूर्ण मुद्दों जैसे कि विधायकों के वेतन में अनुचित वृद्धि और लोकपाल को जोकपाल बनाने से लोगों को ध्यान भटका रही है।

डीडीसीए के खिलाफ पूरा प्रचार यूपीए सरकार के दौरान की गई जांच में मिले तथ्यों पर आधारित है। अब उसका अनुचित प्रचार मुख्यमंत्री के सचिव के भ्रष्टाचार से जनता और मीडिया का ध्यान भटकाने के लिए किया जा रहा है। केजरीवाल की पार्टी के ठग कुछ भी कर लें मुख्यमंत्री केजरीवाल के सचिव राजेंद्र कुमार के भ्रष्टाचार की कहानी जनता के सामने अवश्य आएगी। ऐसा लगता है कि मुख्यमंत्री केजरीवाल को इस बात का डर है कि राजेंद्र कुमार के वर्तमान भ्रष्टाचार का भी पर्दाफाश होगा और यही कारण है कि इस मुद्दे को दबाना चाहते हैं।

दिल्ली भाजपा युवा मोर्चा के अध्यक्ष नकुल भारद्वाज के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने केजरीवाल पोल खोल अभियान के तहत जनसंपर्क अभियान चलाया। युवा मोर्चा कार्यकर्ताओं ने मानव शृंखला भी बनाई और कनाट प्लेस के आउटर सर्किल, डाबड़ी मोड़, द्वारका, रोहिणी, मंडावली और बदरपुर के प्रमुख चौराहों पर बड़े-बड़े बैनर लेकर खड़े हुए। इन पर लिखा था कि मुख्यमंत्री केजरीवाल अपने सचिव के खिलाफ जांच को क्यों दबाना चाहते हैं, जो कांग्रेस शासनकाल में हुए घोटालों में शामिल थे।
वहीं महिला मोर्चा की अध्यक्ष कमलजीत सहरावत के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने 52 प्रमुख मेट्रो स्टेशनों और बाजारों में यह अभियान चलाया।

अल्पसंख्यक मोर्चा की अध्यक्ष आतिफ रशीद के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने अल्पसंख्यकों के बीच उर्दू में लिखित पम्फलेट बांटे। इसमें लिखा था कि किस प्रकार केजरीवाल सरकार के करीब एक साल के शासन में वह उनके लिए कुछ भी ठोस काम नहीं कर पाए हैं। इसके अलावा बाहरी दिल्ली, उत्तर पश्चिम, उत्तर पूर्व, नवीन शाहदरा, दक्षिणी दिल्ली, महरौली, चांदनी चौक, करोलबाग, पश्चिमी दिल्ली, शाहदरा, मयूर विहार, केशवपुरम और नजफगढ़ में जिला अध्यक्षों के नेतृत्व में पार्टी कार्यकर्ताओं ने केजरीवाल सरकार के खिलाफ पोल खोल अभियान चलाया।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories