ताज़ा खबर
 

Saradha scam case: हाथ नहीं आ रहे कोलकाता के पूर्व पुलिस आयुक्त, CBI ने बनाया विशेष दल

Saradha scam case: सीबीआई से दो बार नोटिस मिलने के बावजूद कुमार एजेंसी के समक्ष उपस्थित नहीं हुए। उन्हें सारदा पोंजी घोटाले के संबंध में सीबीआई के समक्ष पेश होना था। एजेंसी ने उन्हें मंगलवार सुबह दस बजे पेश होने को कहा था लेकिन वह नहीं आए।

Author नई दिल्ली | Updated: September 17, 2019 6:46 PM
कोलकाता के पूर्व पुलिस आयुक्त राजीव कुमार

 Saradha scam case: केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने कोलकाता के पूर्व पुलिस आयुक्त राजीव कुमार की तलाश करने के लिए विशेष दल का गठन किया है, जो सारदा पोंजी घोटाले के मामले में एजेंसी के समक्ष उपस्थित होने के नोटिस के बावजूद कथित रूप से ‘‘टालमटोल’’ कर रहे हैं। उच्च पदस्थ सूत्रों ने कहा कि एजेंसी कुमार की तलाश कर रही है और पश्चिम बंगाल के पुलिस महानिदेशक और मुख्य सचिव को भी पत्र लिखा गया है कि वे कुमार को जांच दल के सामने उपस्थित होने का निर्देश दें। उन्होंने बताया कि कुमार का पता लगाने के लिए एक विशेष दल का गठन किया गया है।

इससे पहले सीबीआई से दो बार नोटिस मिलने के बावजूद कुमार एजेंसी के समक्ष उपस्थित नहीं हुए। उन्हें सारदा पोंजी घोटाले के संबंध में सीबीआई के समक्ष पेश होना था। एजेंसी ने उन्हें मंगलवार सुबह दस बजे पेश होने को कहा था लेकिन वह नहीं आए। उनके जांच एजेंसी के सामने आने में विफल रहने के कारण अब उनकी गिरफ्तारी की संभावना बढ़ गई है।

सूत्रों ने बताया कि सीबीआई ने अब कानून के तहत उपलब्ध अन्य विकल्प तलाशने शुरू कर दिए हैं। इस बीच एक विशेष अदालत ने कुमार को अग्रिम जमानत देने से इनकार कर दिया है। पश्चिम बंगाल के डीजीपी ने सोमवार को एक पत्र के जरिए सीबीआई को बताया था कि उसके नोटिस कुमार के आधिकारिक आवास पर भेजे गए थे और अभी उनका जवाब मिलना बाकी है।

पत्र में शीर्ष पुलिस अधिकारी ने कहा था कि अपने वकील के जरिए कुमार ने उन्हें बताया था कि वह 25 सितंबर तक छुट्टी पर हैं। उन्होंने यह भी कहा कि वह कानूनी उपाय तलाशने का प्रयास कर रहे हैं। गौरतलब है कि सारदा ग्रुप आफ कंपनीज ने लोगों को उनके निवेश पर भारी मुनाफा देने का लालच देकर उनका करीब 2500 करोड़ रूपया हड़प लिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 ONGC पर 2.05 करोड़ रुपये का जुर्माना, असम में पर्यावरण नियमों का किया था उल्लंघन
2 एक करोड़ मुस्लिम युवाओं को जमीयत देगा ट्रेनिंग, 10 साल का बनाया लक्ष्य
3 राजस्थान में 6 विधायक टूटे तो कांग्रेस पर भड़कीं माया, बोलीं- यह गैर भरोसेमंद और धोखेबाज पार्टी