ताज़ा खबर
 

MP में सरकारी नौकरी पाने वाली पहली ट्रांसजेंडर बनीं संजना सिंह, कहा- हमें आरक्षण क्यों नहीं?

संजना सिंह मध्य प्रदेश की ऐसी पहली ट्रांसजेंडर बन गई हैं, जिन्हें सरकारी नौकरी मिली है। उनकी नियुक्ति मध्यप्रदेश सामाजिक न्याय और विकलांग कल्याण विभाग के निदेशक के निजी सचिव के तौर पर हुई है।

ट्रांसजेंडर संजना सिंह फोटो सोर्स- ANI

मध्य प्रदेश में ट्रांसजेंडर समूह से आने वाली संजना सिंह (36) को सरकारी नौकरी मिली है। वे पहली ऐसी ट्रांसजेंडर हैं, जिन्हें प्रदेश में सरकारी नौकरी मिली है। उनकी नियुक्ति मध्य प्रदेश सामाजिक न्याय और विकलांग कल्याण विभाग के निदेशक के निजी सचिव के तौर पर हुई है। संजना ने कहा कि इस पहल से आने वाले दिनों में समाज में बदलाव आएगा। अगर दूसरों को आरक्षण दिया जा रहा है, तो हमें क्यों नहीं?

न्यूज एजेंसी एएनआई से बात करते हुए संजना ने कहा, ‘‘आने वाले दिनों में हमारे समुदाय के लोगों को बेहतर अवसर मिलेंगे। हमारे समुदाय ने भी मुख्यधारा में शामिल होने के लिए ज्यादा प्रयास नहीं किए। मुझे लगता है कि इस पहल से समाज में बदलाव आएगा। अगर दूसरों को आरक्षण दिया जा रहा है, तो हमें क्यों नहीं?  यह मेरे लिए एक अच्छा मंच है। यदि अवसर प्रदान किया जाए तो हमारा समुदाय क्या कुछ नहीं कर सकता।’’

बता दें कि हाल ही में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी ट्रांसजेंडर अप्सरा रेड्डी को महिला कांग्रेस का राष्ट्रीय महासचिव नियुक्त किया था। अप्सरा महिला कांग्रेस के इस पद पर नियुक्त होने वाली पहली ट्रांसजेंडर हैं। उन्होंने कहा था कि वे अपने समाज की महिलाओं से मिलेंगी और उनके अधिकारों की लड़ाई लड़ेंगी। गौरतलब है कि दिसंबर 2018 में लोकसभा में ट्रांसजेंडर व्यक्तियों के अधिकारों से जुड़ा एक बिल पारित किया गया था। इसमें ट्रांसजेंडर व्यक्तियों के खिलाफ भेदभाव पर पाबंदी लगाने और उन्हें लिंग पहचान का अधिकार देने के प्रावधान शामिल था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App