मंदिर टूटने पर रोते-बिलखते पुजारी का VIDEO शेयर कर सपा नेता बोले, किसी अन्य राज्य में ऐसा होता तो BJP उसे सांप्रदायिक रंग दे देती

मंदिर तोड़े जाने की घटना पर आम आदमी पार्टी ने भी गुजरात की भाजपा सरकार को निशाने पर लिया है। साथ ही सोशल मीडिया पर भी लोगों की भारी नाराजगी देखने को मिल रही है।

गुजरात के सूरत में सालों पुराने रामदेव पीर के मंदिर को ढहाए जाने पर मंदिर के पुजारी पुलिसकर्मियों और नगर निगम के अधिकारियों के सामने ही रोने लगे। (फोटो – ट्विटर/IPSinghSp)

पिछले दिनों गुजरात के सूरत में वर्षों पुराने बने रामदेव पीर मंदिर को ढहा दिया गया। सूरत महानगर पालिका ने पुलिस की मौजूदगी में मंदिर पर बुलडोजर चला दिया गया। वाल्मीकि समाज के आराध्य का मंदिर तोड़े जाने के दौरान सालों से मंदिर के पुजारी रहे मधुभाई मावजी अधिकारियों के सामने ही गिड़गिड़ा कर रोने लगे। सपा नेता आईपी सिंह ने पुजारी के रोने का वीडियो शेयर कर भाजपा पर निशाना साधा और कहा कि अगर किसी अन्य राज्य में ऐसा होता तो BJP उसे सांप्रदायिक रंग दे देती।

समाजवादी पार्टी के नेता आईपी सिंह ने अपने ट्विटर अकाउंट से पुजारी के रोने का वीडियो शेयर किया है। वीडियो शेयर करते हुए उन्होंने ट्वीट किया कि पुजारी-योगी रोता रहा, बिलखता रहा पर सूरत में भाजपा की पुलिस ने मंदिर तोड़ कर गिरा दिया। ऐसा यदि किसी अन्य राज्य में होता तो भाजपाई गिद्ध की तरह आकर उसे साम्प्रदायिक रंग दे देते। पर गुजरात है तो चलता है, दो रूपल्ली वाले भी चुपचाप देखेंगे।

दरअसल बीते बुधवार को सूरत के कपोदरा इलाके में स्थित बाल्मीकि समाज के आराध्य रामदेव पीर के मंदिर को नगर निगम ने तोड़ दिया। सूरत मेट्रो परियोजना के लिए इस मंदिर को तोड़ा गया। मंदिर तोड़ने के लिए अधिकारी भारी पुलिसबल के साथ मौके पर पहुंचे थे। मंदिर तोड़े जाने की खबर मिलते ही कई लोग वहां जमा हो गए और मंदिर तोड़े जाने का विरोध करने लगे।

इस दौरान पुलिस ने विरोध करने वाले कई लोगों को गिरफ्तार भी कर लिया। मंदिर पर बुलडोजर चलाए जाने के दौरान मंदिर के पुजारी मधुभाई मावजी अधिकारियों के सामने मंदिर ना तोड़ने की मिन्नते करने लगे। लेकिन अधिकारियों ने उनकी एक ना सुनी। अपने आंखों के सामने मंदिर को टूटता हुआ देखकर मधुभाई मावजी वहां मौजूद पुलिसकर्मियों और नगर निगम के अधिकारियों के सामने ही रोने लगे। 

मंदिर तोड़े जाने की घटना पर आम आदमी पार्टी ने भी गुजरात की भाजपा सरकार को निशाने पर लिया है। आप की गुजरात इकाई के नेता इसुदन गढ़वी ने भी भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि करीब 100 साल पुराने रामदेव पीर मंदिर को भाजपा सरकार ने तोड़ दिया। मंदिर के पुजारी ने बहुत कोशिश की और वे रो भी पड़े। मंदिर तोड़ कर भाजपा ने गुजरात और देश के हिंदुओं की आस्था को चोट पहुंचाई है। इसलिए मुख्यमंत्री और भाजपा को लोगों से माफी मांगनी चाहिए। साथ ही दूसरा वैकल्पिक मंदिर दिया जाना चाहिए।            

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट