ताज़ा खबर
 

RSS नेता ने कहा- पहली बार देश भर के मदरसों में फहरेगा तिरंगा, गाया जाएगा वंदे मातरम

इंद्रेश कुमार, मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के प्रमुख हैं। इंद्रेश कुमार ने बताया कि मुस्लिम राष्ट्रीय मंच का उद्देश्य अल्पसंख्यक समुदाय में राष्ट्रवादी विचारधारा का संचार करना है।

Author नई दिल्ली | July 22, 2019 8:06 PM
इंद्रेश कुमार राष्ट्रीय मुस्लिम मंच के प्रमुख हैं।

राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के वरिष्ठ नेता इंद्रेश कुमार ने अपने एक बयान में कहा है कि इस साल स्वतंत्रता दिवस पर देश के सभी मदरसों पर ‘पहली बार’ तिरंगा फहराया जाएगा, राष्ट्रगान गाने के साथ ही वंदेमातरम भी गाया जाएगा। इंद्रेश कुमार उत्तराखंड के मसूरी में बीते शनिवार को आयोजित हुए राष्ट्रीय सुरक्षा जागरण मंच के कार्यक्रम में शामिल हुए थे। देहरादून में टाइम्स ऑफ इंडिया के साथ एक बातचीत में आरएसएस के वरिष्ठ नेता ने कहा कि मुस्लिम राष्ट्रीय मंच सभी मदरसों में तिरंगा लहराने के लिए गठित किया गया है।

इंद्रेश कुमार ने बताया कि इसके साथ ही स्वतंत्रता दिवस पर विभिन्न कार्यक्रमों का भी आयोजन किया जाएगा, जिनमें छात्रों को हमारे स्वतंत्रता सेनानियों के संघर्ष के बारे में जानकारी दी जाएगी। इंद्रेश कुमार ने कहा कि मैं मुस्लिम समुदाय के नेताओं से अपील करता हूं कि वह अपने घरों, कालोनियों और दुकानों पर स्वतंत्रता दिवस के मौके पर तिरंगा फहराएं। इसके साथ ही उन्हें राष्ट्रगान और वंदेमातरम गाते हुए हमारे स्वतंत्रता सेनानियों को श्रद्धांजलि देनी चाहिए। बता दें कि मुस्लिम राष्ट्रीय मंच आरएसएस की ही एक शाखा है और इंद्रेश कुमार इस मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के प्रमुख हैं। इंद्रेश कुमार ने बताया कि मुस्लिम राष्ट्रीय मंच का उद्देश्य अल्पसंख्यक समुदाय में राष्ट्रवादी विचारधारा का संचार करना है।

खबर के अनुसार, उत्तराखंड में 700 मदरसे हैं, जिनमें से 300 राज्य सरकार से संबंद्ध हैं। उत्तराखंड मदरसा बोर्ड चेयरमैन बिलाल रहमान ने बताया कि मदरसों में तिरंगा लहराने के लिए एक औपचारिक संदेश उत्तराखंड के सभी मदरसों में भेज दिया गया है। हमारा उद्देश्य बच्चों को स्वतंत्रता दिवस के बारे में जागरुक करना और हमारे स्वतंत्रता सेनानियों के बलिदान से बच्चों को रुबरु कराना है। बिलाल रहमान के अनुसार, राज्य के सभी मदरसों में 12 अगस्त से लेकर 15 अगस्त तक स्वतंत्रता दिवस संबंधी कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App