ताज़ा खबर
 

संघ प्रमुख भागवत को बनाया जाए मंदिर निर्माण ट्रस्ट का अध्यक्ष: महंत परमहंस

भदोही के सीतामढ़ी स्थित सीता समाहित स्थल पहुंचे संत परमहंस ने संवाददाताओं से कहा कि यह पदेन व्यवस्था होनी चाहिये ताकि जो भी व्यक्ति संघ प्रमुख बने, वह स्वत: ही ट्रस्ट का अध्यक्ष बन जाए और संघ परिवार को ही मंदिर निर्माण की जिम्मेदारी भी सौंप दी जाए।

Author  भदोही (उप्र) | Published on: November 25, 2019 5:15 PM
आरएसएस चीफ मोहन भागवत। फोटो सोर्स: इंडियन एक्सप्रेस

राम जन्म भूमि न्यास के वरिष्ठ पदाधिकारियों पर गम्भीर आरोप लगाने वाले महंत परमहंस महाराज ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ प्रमुख को अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिये बनने वाले ट्रस्ट का अध्यक्ष बनाने की वकालत की है। तपस्वी जी की छावनी के महंत परमहंस महाराज ने सोमवार को कहा कि राम जन्म भूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास और पूर्व सांसद राम विलास वेदांती की सोच बहुत छोटी है और इन दोनों ने बहुत बड़ा घोटाला किया है। लिहाजा सरकार संघ प्रमुख मोहन भागवत को मंदिर निर्माण के बनने वाले ट्रस्ट का अध्यक्ष बनाये।

भदोही के सीतामढ़ी स्थित सीता समाहित स्थल पहुंचे संत परमहंस ने संवाददाताओं से कहा कि यह पदेन व्यवस्था होनी चाहिये ताकि जो भी व्यक्ति संघ प्रमुख बने, वह स्वत: ही ट्रस्ट का अध्यक्ष बन जाए और संघ परिवार को ही मंदिर निर्माण की जिम्मेदारी भी सौंप दी जाए। उन्होंने आरोप लगाया कि उच्चतम न्यायालय द्वारा मंदिर निर्माण के लिये ट्रस्ट बनाये जाने का सरकार को आदेश के बाद महंत नृत्य गोपाल दास ने पद के लालच में अपने ट्रस्ट के जरिये मंदिर निर्माण की बात की। दूसरी ओर, पूर्व सांसद राम विलास विलास वेदांती ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को ट्रस्ट का अध्यक्ष बनाने का यह कहते हुए विरोध किया कि नाथ सम्प्रदाय मंदिर निर्माण नहीं कर सकता।

महंत रामदास ने कहा कि उन्होंने जब महंत नृत्य गोपाल दास और वेदांती का विरोध किया तो उनके गुंडों ने उन पर हमला किया और अयोध्या छोड़ने के लिये मजबूर कर दिया। गौरतलब है कि राम जन्म भूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्यगोपालदास के प्रति कथित अपमानजनक टिप्पणी से नाराज उनके भक्तों ने गत 15 नवम्बर को महंत परमहंस के कक्ष पर धावा बोल दिया था। इस घटना के बाद वह अयोध्या से काशी चले गये थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
जस्‍ट नाउ
X