शहाबुद्दीन की बेटी का शाही निकाह: 200 गाड़‍ियों में आई बारात, 500 चूल्‍हों पर यूपी-बंगाल से आए खानसामों ने बनाए व्‍यंजन

बेटे ओसामा का निकाह 13 अक्टूबर 2021 को सीवान के आयशा से हुई थी। आयशा पेशे से डॉक्टर हैं और उन्होंने अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय से MBBS किया है। ओसामा लंदन से कानून की पढ़ाई करके आए हैं।

बाहुबली नेता शहाबुद्दीन की बेटी हेरा शहाब और दामाद डॉ, शादमान। (Photo Source: Social Media)

बिहार के चर्चित पूर्व सांसद और बाहुबली नेता शहाबुद्दीन की बेटी हेरा शहाब का सोमवार को पूर्वी चंपारण जिले के मोतिहारी निवासी डॉ. शादमान के साथ शाही अंदाज में निकाह हुआ। निकाह के लिए दूल्हा दो सौ से ज्यादा गाड़ियों के साथ बारात लेकर शहाबुद्दीन के आवास सीवान के प्रतापपुर पहुंचे। बेटी के निकाह में शहाबुद्दीन नहीं थे, कोरोनावायरस संक्रमण के कारण एक मई को दिल्‍ली के एक अस्‍पताल में उनका निधन हो गया था। हालांकि समारोह की भव्यता वैसी ही थी।

निकाह समारोह में आरजेडी नेता तेजस्वी यादव, पूर्व मंत्री अब्दुल बारी सिद्दीकी, जाप के राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव, आरजेडी के विधायक रीतलाल यादव, पूर्व सांसद गिरधारीलाल यादव समेत कई राजनीतिक हस्तियां भी मौजूद थीं। हालांकि सीएम नीतीश कुमार को भी आमंत्रित किया गया था, लेकिन वे नहीं पहुंचे। बेटी के निकाह के साथ ही बेटे ओसामा का वलीमा भी हुआ।

ओसामा का निकाह 13 अक्टूबर को सीवान के आयशा से हुई थी। आयशा पेशे से डॉक्टर हैं और उन्होंने अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय से MBBS किया है। ओसामा लंदन से कानून की पढ़ाई करके आए हैं।

मेहमानों के स्वागत के लिए समारोह स्थल को काफी भव्य तरीके से सजाया गया था। विशेष तरह के शाकाहारी और मांसाहारी व्यंजन बनाए गए थे। इसके लिए यूपी और बंगाल से खास तौर पर खानसामे और कारीगर बुलाए गए थे। खाना बनाने के लिए पांच सौ से ज्यादा चूल्हों का उपयोग किया गया। बारातियों का रास्ते में कई जगह फूलों से स्वागत किया गया। समारोह की तैयारी महिनों से की जा रही थी।

शहाबुद्दीन ने 1980 के दशक में अपराध की दुनिया में कदम रखा और अपना दबदबा बनाने के बाद साल 1990 में निर्दलीय विधायक के तौर पर राजनीति में एंट्री की। इसके बाद शहाबुद्दीन की लालू प्रसाद यादव के साथ नजदीकी बढ़ गई और 1995 का विधानसभा चुनाव शहाबुद्दीन ने राजद के टिकट पर लड़ा।

साल 1996 से लेकर 2004 तक शहाबुद्दीन ने लोकसभा के चार चुनाव जीते। तेजाब कांड में शहाबुद्दीन लंबे समय तक जेल में रहे। पिछली मई में उनको कोरोना वायरस से निधन हो गया था।

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

Next Story
दलित हत्या कांड: पीड़ित पक्ष की सभी मांगें सरकार ने मानी, अंतिम संस्कार के लिए परिवार राजीFaridabad, dalit, dalit killing, faridabad latest news, Rahul Gandhi, Rahul Gandhi latest news,news in hindi, hindi news, sunperh, dalit home on fire, dalit family fire, ballabhgarh, haryana, haryana news, dalit family, india news, Dalit family, dalit family set on fire, Sunped village, Ballabhgarh, फरीदाबाद, दलित परिवार, दलित, दलित हत्या, राहुल गांधी, फरीदाबाद, राजनाथ सिंह, दलित परिवार को जलाया, सुनपेड़ गांव, पुलिसकर्मी सस्‍पेंड
अपडेट