आरक्षण को लेकर धरने पर बैठे जाटों ने मनाई काली होली, पीएम, हरियाणा के सीएम समेत बीजेपी के कई नेताओं के जलाए पुतले

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में जीत के लिए जाटों ने तो अपना साथ दे दिया है लेकिन अब बीजेपी की बारी है कि वे जाटों का साथ देकर उनकी मांगों को पूरा करे।

अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति (एआईजेएएसएस) के अध्यक्ष यशपाल मलिक

आरक्षण की मांग को लेकर काफी दिनों से धरने पर बैठे जाटों ने रविवार को रंग-बिरंगे रंगों से होली खेलने के बजाए काली होली खेली। होली के दिन अपना विरोध जताते हुए जाटों ने कई बीजेपी नेता, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के पुतले जलाए। अपनी मांग पूरी करने का नारा देते हुए जाट प्रदर्शनकारियों ने कहा कि आरक्षण समेत पिछले साल आंदोलन में पकड़े गए लोगों के खिलाफ केस वापस लिया जाए। बीजेपी से नाराज अखिल जाट आरक्षण समिती के अध्यक्ष यशपाल मलिक ने बहुत कोशिश की थी कि उत्तर प्रदेश चुनावों में वहां के जाट बीजेपी को वोट न दें लेकिन भारी बहुमत से जीत कर बीजेपी ने साबित किया कि जाटों समेत सभी लोग उनके साथ हैं।

रोहतक के एक गाव में आंदोलनकारियों को संबोधित करते हुए यशपाल मलिक ने कहा कि हम बहुत खफा है क्योंकि बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह बार-बार अपनी रैलियों में कहते रहे कि वे जाट समुदाय के लोगों के साथ हैं। हमारे आंदोलन ने उन्हें चिंता में डाल दिया था जिसके कारण उन्होंने यूपी के जाट नेताओं के साथ मीटिंग कर उनका भरोसा जीत लिया। इसके बाद मलिक ने कहा कि प्रधानमंत्री भी अपनी रैलियों में पूर्व प्रधानमंत्री और जाट नेता रहे चौधरी चरण सिंह का नाम लेते थे ताकि किसान और जाट समुदाय के लोग उनका साथ दें। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में जीत के लिए जाटों ने तो अपना साथ दे दिया है लेकिन अब बीजेपी की बारी है कि वे जाटों का साथ देकर उनकी मांगों को पूरा करे।

गृह राज्य वित्त मंत्री कैपटन अभिमन्यु पर हमला बोलते हुए मलिक ने कहा कि यूपी में बीजेपी की जीत के साथ ही कैपटन बहुत ही अभिमानी हो गए हैं। मलिक ने कहा कि कैपटन को अपना इस्तीफा देकर फिर से चुनावी मैदान में उतरना चाहिए जब उन्हें पता चलेगा कि वे कहा पर स्टैंड करते हैं। इसके बाद मलिक ने कहा कि 20 मार्च को संसद का घेराव करते हुए वे दिल्ली मार्च के नाम से प्रदर्शन करेंगे। अपनी बात खत्म करते हुए मलिक ने कहा कि अगर सरकार चाहती है कि हम प्रदर्शन करना बंद कर दें तो सरकार के पास कुछ ही दिन हैं कि वे हमारी मांगों को पूरा कर दे।

Next Stories
1 2012 मारुति कांड: हरियाणा कोर्ट ने 31 आरोपियों को दोषी करार दिया, 117 को किया बरी, 17 मार्च को होगा सजा का एलान
2 बैंकॉक: भारतीय एयरएंबुलेंस क्रैश, पायलट की मौत, दो की हालत गंभीर
3 ये है हरियाणा पुलिस का बांका जवान राहुल यादव, मिस्टर इंडिया बनने की दौड़ में हैं मिस्टर हरियाणा
यह पढ़ा क्या?
X