ताज़ा खबर
 

बिहार: 12 घंटे लेट चल रही कोसी एक्सप्रेस को लुटेरों ने बनाया निशाना, यात्रियों को पीटा

पटना के बंकाघाट रेलवे स्टेशन के पास लुटेरों ने सोमवार रात कोसी एक्सप्रेस को निशाना बनाया और जमकर लूट मचाई।

पटना के बंकाघाट रेलवे स्टेशन के पास लुटेरों ने सोमवार रात कोसी एक्सप्रेस को निशाना बनाया और जमकर लूट मचाई। इस दौरान विरोध करने वाले यात्रियों के साथ मारपीट भी की गई।

पटना के बंकाघाट रेलवे स्टेशन के पास लुटेरों ने सोमवार रात कोसी एक्सप्रेस को निशाना बनाया और जमकर लूट मचाई। इस दौरान विरोध करने वाले यात्रियों के साथ मारपीट भी की गई। पुलिस के अनुसार, पूर्णिया से पटना आ रही कोसी एक्सप्रेस अपने नियत समय से करीब 12 घंटे देरी से सोमवार रात पटना पहुंच रही थी। इस दौरान ट्रेन जब बंकाघाट स्टेशन से खुली तब दीदारगंज ओवरब्रिज के पास ट्रेन को रोक लिया गया और करीब दो दर्जन हथियारबंद डकैत ट्रेन की बोगी में घुस गए। डकैतों ने पहले यात्रियों पर लोहे की रॉड से हमला बोल दिया। कई यात्रियों को चोटे आईं। लुटेरों ने करीब 40 यात्रियों से मोबाइल फोन, पर्स, बैग कपड़े और कीमती सामान लूट लिए और फरार हो गए।

यात्रियों का आरोप है कि ट्रेन में एक भी सुरक्षाकर्मी मौजूद नहीं था। ट्रेन के पटना साहिब पहुंचने पर यात्रियों ने हंगामा किया। पुलिस अधीक्षक (रेल) अशोक कुमार सिंह खुद पटना साहिब स्टेशन पहुंचे, जहां रेल थाने में पीड़ित रेल यात्रियों का बयान दर्ज कराया गया। सिंह ने बताया कि लुटेरों की गिरफ्तारी के लिए टीम गठित कर दी गई है। लुटेरों की उम्र 16 से 20 वर्ष के बीच बताई जा रही है। लुटेरों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी अभियान चलाया जा रहा है।

गौरतलब है  इससे पहले 26 जून को भी बिहार के रेलवे ट्रैक पर चल रही ट्रेन में लूटपाट की खबर आई थी। 26 जून की शाम को एक एक्सप्रेस ट्रेन में डकैतों ने धावा बोला था। रेलगाड़ी रुकवा कर पहले उन्होंने कर्मचारियों से मारपीट की  और बाद में यात्रियों से लूटपाट कर वे मौके से फरार हो गए थे। वारदात को भलूई रेलवे स्टेशन के आस-पास अंजाम दिया गया था। घटना के दौरान सब कुछ इतना अचानक हुआ कि यात्री भी उस वक्त डकैती के बारे में कुछ समझ नहीं पाए थे।

शाम आठ बजे पटना-हटिया-पाटलिपुत्र एक्सप्रेस (यह ट्रेन झारखंड की राजधानी रांची के हटिया जाती है) कुंदर हॉल्ट के पास थी। अचानक कुछ डकैत ट्रेन को दो वातानुकूलित बोगियों (ए1 और बी1) में घुस गए, जहां उन्होंने जमकर लूटपाट की। शुरू में कुछ लोगों ने घटना का विरोध किया, तो उन्होंने मारपीट की। डकैतों के पास कुल्हाड़ी और लाठियां थीं, जिनके बलबूते वे आभूषण, नकदी, स्मार्टफोन, बैग समेत अन्य सामान लूटकर नौ दो ग्यारह हो लिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App