ताज़ा खबर
 

Jharkhand: पहले ज्वेलरी शॉप के आगे फेंका कचड़ा, फिर दिन दहाड़े दुकान को लूट लिया

झारखंड में दिन दहाड़े लूट की घटना को अंजाम देने का मामला सामने आया है। जिसमें दिनदहाड़े 2 बाइक सवार बदमाशों ने ज्वेलरी शॉप को लूट लिया।

प्रतीकात्मक फोटो, फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

झारखंड में दिन दहाड़े लूट की घटना को अंजाम देने का मामला सामने आया है। जिसमें दिनदहाड़े 2 बाइक सवार बदमाशों ने ज्वेलरी शॉप को लूट लिया। लूट में आरोपी लाखों का माल लेकर फरार हो गए। वहीं पुलिस की गिरफ्त से अभी भी आरोपी फरार हैं।

कहां का है मामला: दरअसल पूरा मामला रांची के पिठोरिया का है। जहां अभिषेक ज्वेलर्स की दुकान पर दिनदहाड़े लूटेरों ने निशाना साधा और लूटपाट कर फरार हो गए। अपराधियों ने घटना को सुबह उस वक्त अंजाम दिया जब दुकान की साफ सफाई की जा रही थी। पुलिस के मुताबिक आरोपियों ने ज्वेलरी शॉप के सामने काफी कचड़ा फेंक दिया। जिसके बाद सुबह दुकान को खोलने जा रहे मालिक ने देखा की दुकान के आगे कचड़ा पड़ा है। जिसको हटाने के लिए दुकान मालिक ने साथ में लाए जेवरात का बैग साइड में रख दिया और कचड़ा साफ कर हटाने लगे। लेकिन इतने में ही एक बदमाश आया और बैग लेकर भाग निकला। इस दौरान मालिक और बदमाश की झड़प भी हुई लेकिन बदमाश अपने दूसरे साथी की मदद से फरार हो गया। जिसके बाद दुकान मालिक ने पुलिस को घटना की सूचना दी।

पुलिस का क्या है कहना: जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। लेकिन आरोपी अभी भी पुलिस गिरफ्त से बाहर हैं। वहीं कितने रुपए के गहने लेकर बदमाश फरार हुए हैं अभी इस बात का भी खुलासा नहीं हो पाया है।

पहले भी ऐसे ही हो चुकी है लूट: बता दें कि ये पहला मामला नहीं है। इससे पहले भी अक्टूबर 2018 में एक लूट हो चुकी है। जिसमें मुक्ता ज्वेलर्स की दुकान के आगे कचड़ा फेंका गया था और मालिक के आने पर लूट को अंजाम दिया गया था। उस लूट के आरोपी भी फरार है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 सिटिजनशिप बिल का विरोध: साहित्‍य अकादमी पुरस्‍कार विजेता और पत्रकार पर राजद्रोह का मुकदमा
2 मोदी सरकार की आयुष्मान योजना को ममता बनर्जी नहीं देंगी पैसा, बोली- केंद्र दे पूरे पैसे
3 अब तो किंगमेकर बनूंगा, सपा में लौटने का सवाल नहीं- बोले शिवपाल यादव
ये पढ़ा क्या?
X
Testing git commit