ताज़ा खबर
 

AIIMS में लालू का इलाज शुरू: रिम्स जाकर भी नहीं मिल पाए साले प्रभुनाथ, तेजस्वी ने भीड़ से हाथ जोड़ मांगा रास्ता

रिम्स मेडिकल बोर्ड की बैठक में सामने आया कि लालू की किडनी सिर्फ 25 फीसदी ही काम कर रही हैं। शुगर गिरने की वजह से उनकी किडनी पर लगातार बुरा असर पड़ा है। साथ ही दिल भी कमजोर है, ऐसे में फेफड़ों में निमोनिया घातक हो सकता है।

Author Edited By कीर्तिवर्धन मिश्र नई दिल्ली | Updated: January 24, 2021 11:09 AM
Lalu Prasad, rims, aiimsरिम्स रांची से लालू प्रसाद यादव को दिल्ली एम्स भेजा गया। (फोटो- पीटीआई)

राष्ट्रीय जनता दल के सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की अचानक तबियत बिगड़ने के बाद उन्हें रिम्स से दिल्ली के एम्स पहुंचाया गया है, जहां उनका इलाज शुरू हो चुका है। शुक्रवार को उन्हें सांस लेने में तकलीफ हुई, जिसके बाद RIMS में उनका सीटी स्कैन कराया गया। लालू के फेफड़े में 15 फीसदी निमोनिया पाया गया। साथ ही शुगर लेवल भी काफी नीचे पाया गया। राजद नेता की गंभीर स्थिति को देखते हुए रिम्स के प्रस्ताव पर ही परिवार उन्हें अपने खर्चे पर एयर एंबुलेंस से दिल्ली के एम्स ले गया। हालांकि, लालू के जाने से पहले तक रिम्स के बाहर बड़ी संख्या में उनके समर्थकों की भीड़ जुटी रही।

मेडिकल बोर्ड की बैठक में बनी लालू को AIIMS भेजने पर सहमति: दरअसल, शनिवार को लालू की बिगड़ती स्थिति पर स्टेट मेडिकल बोर्ड की बैठक हुई थी। इसमें लालू की किडनी, हार्ट, ब्लड प्रेश और शुगर सहित 14 बीमारियों से ग्रसित होने के मुद्दे पर चर्चा हुई और गंभीर स्थिति को देखते हुए उन्हें एम्स रिफर करने पर सहमति बनी। बताया गया है कि लालू की किडनी सिर्फ 25 फीसदी ही काम कर रही हैं। शुगर गिरने की वजह से उनकी किडनी पर लगातार बुरा असर पड़ा है। साथ ही दिल भी कमजोर है, ऐसे में फेफड़ों में निमोनिया घातक हो सकता है। बैकअप के लिए उन्हें कागजी प्रक्रिया पूरी करने के बाद दिल्ली भेज दिया गया।

रिम्स के बाहर जुटे रहे राजद समर्थक: लालू के अचानक बीमार पड़ने की खबरों पर पूरे दिन उनके समर्थकों का तांता लगा रहा। आलम यह था कि सुबह 11 बजे तेजस्वी और तेजप्रताप यादव जब मां राबड़ी देवी के साथ रिम्स पहुंचे, तो भारी संख्या में लोग बाहर ही जमा थे। 12 बजे तेजस्वी और तेजप्रताप मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से मिलने निकले और 1.15 तक मीसा भारती रिम्स पहुंच गईं। इसी समय जेल आईजी ने लालू को एम्स ले जाने से जुड़ी मंजूरी दे दी। शाम 4.20 बजे लालू के बड़े साले प्रभुनाथ यादव पेइंग वॉर्ड से निकले, हालांकि उन्होंने बताया कि उनकी लालू प्रसाद से मुलाकात नहीं हो पाई।

इसके बाद शाम 4.55 पर राबड़ी देवी और तेजस्वी यादव जब पेइंग वॉर्ड से बाहर निकले तो कार्यकर्ताओं और मीडिया ने उन्हें घेर लिया। मायूस होकर राबड़ी ने कहा- बस कीजिए। इस बीच तेजस्वी यादव ने भी भीड़ से हाथ जोड़कर कहा कि माफ कीजिए, हम लोग बहुत परेशान हैं। हमें जाने दीजिए। हमें जल्द एयरपोर्ट पहुंचना है। इसके बाद तेजस्वी ने कार में बैठी मां से किनारे बैठने के लिए कहा और बताया कि हम लोग जल्द एयरपोर्ट पहुंचेंगे।

AIIMS के CCU में भर्ती लालू: शाम 5.15 बजे लालू प्रसाद यादव को पेइंग वॉर्ड से बाहर लाया गया। एयर एंबुलेंस शाम 5.55 पर ही रांची एयरपोर्ट पहुंच गई थी। पर लालू को लेकर उड़ान 7.12 पर भरी। बताया गया है कि लालू को एम्स के कोरोनरी केयर यूनिट (सीसीयू) में रखा गया है, जहां डॉक्टर उनका इलाज कर रहे हैं।

Next Stories
1 खत्म हो गए दो करोड़ छोटे उद्योग, गई 20 करोड़ लोगों की रोजी- कारोबारी ने राहुल गांधी को बताया हाल
2 रिश्तेदार के इनकार पर नेताजी सुभाष चंद्र बोस के पुश्तैनी घर अकेले गए पीएम, BJP नेताओं को बाहर करना पड़ा इंतजार
3 UP: मथुरा के मंदिर में नमाज पढ़ने वाले व्यक्ति को इलाहाबाद HC से मिली अग्रिम जमानत, अदालत बोली- ऐसे मामलों में गिरफ्तारी होना चाहिए आखिरी विकल्प
यह पढ़ा क्या?
X