ताज़ा खबर
 

बोलीं लालू की बेटी मीसा- हमारे परिवार में भाई-भाई में मनमुटाव है

RJD प्रमुख लालू प्रसाद यादव की बेटी और राज्‍यसभा सदस्‍य मीसा भारती ने पार्टी कार्यकर्ताओं की एक बैठक में तेज प्रताप यादव और तेजस्‍वी यादव के बीच जारी मनमुटाव की बात मानी। हालांकि, मामले के तूल पकड़ने के बाद वह अपने बयान से पलट गईं।

RJD लालू प्रसाद यादव की बेटी और राज्‍यसभा सदस्‍य मीसा भारती।

RJD सुप्रीमो लालू यादव के परिवार में इन दिनों सबकुछ ठीकठाक नहीं चल रहा है। उनकी बेटी और राज्‍यसभा सदस्‍य मीसा भारती के बयान ने इस चर्चा को और हवा दे दी है। उन्‍होंने तेजस्‍वी यादव और तेज प्रताप यादव के बीच जारी मनमुटाव को लेकर महत्‍वपूर्ण टिप्‍पणी की है। दरअसल, आरजेडी विधायक भाई बीरेंद्र ने बिहार की राजधानी पटना से लगते मनेर में पार्टी नेताओं-कार्यकर्ताओं की एक सभा आयोजित की थी। इसमें सांसद मीसा भारती ने भी शिरकत की थी। मीसा ने पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा था, ‘एक होने का समय आ चुका है। हर जगह दरारें हैं। यहां तक की हमारी पांचों अंगुलियां भी समान नहीं हैं। हमारे परिवार में भाई-भाई में मनमुटाव है।’ मीसा भारती का यह बयान लालू परिवार में जारी कलह की अटकलों को हवा दे गया।

बयान से पलटीं: तेज प्रताप यादव और तेजस्‍वी यादव के रिश्‍तों पर बयान देने के कुछ देर बाद ही आरजेडी सांसद मीसा भारती अपने बयान से पलट गईं। उन्‍होंने कहा कि पार्टी कार्यकर्ताओं की बैठक में उन्‍होंने जो कुछ भी कहा उसे शब्‍दश: नहीं लिया जाना चाहिए। ‘द टेलीग्राफ’ से बात करते हुए मीसा ने कहा, ‘भाई बीरेंद्र की ओर से लिट्टी-चोखा पार्टी का आयोजन किया गया था। मैं उसी सभा में पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कह रही थी कि आरजेडी एक बड़ा परिवार है, जिसमें सभी समान नहीं हैं। यहां तक की मैंने अपना हाथ दिखाते हुए कहा था कि सभी अंगुलियां भी एक समान नहीं हैं। …ऐसा कुछ नहीं है (तेज प्रताप और तेजस्‍वी में मनमुटाव)। मीडिया में दिखाई जा रही खबरें गलत हैं। मनमुटाव का उल्‍लेख पार्टी कार्यकर्ताओं के लिए किया गया था, क्‍योंकि पार्टी के अंदर हमेशा ही एक असंतुष्‍ट गुट होता है। कुछ लोग मुझसे खुश नहीं हैं तो कुछ मुखिया से और कुछ अपने विधायक से संतुष्‍ट नहीं हैं।’

सितंबर में लालू ने तेजस्‍वी को बुलाया था रांची: मीसा भारती भले ही अपने बयान से पलट गईं, लेकिन तेजस्‍वी और तेज प्रताप के बीच जारी मनमुटाव की बात कतई नई नहीं है। जून महीने में तेज प्रताप ने आरोप लगाया था कि पार्टी में उनकी बात कोई नहीं सुनता है। उन्‍होंने पार्टी छोड़ने की भी धमकी दे डाली थी। कुछ दिनों पहले (28 सितंबर) ही मीडिया में लालू यादव द्वारा छोटे बेटे तेजस्‍वी को रांची तलब करने की खबर आई थी। चारा घोटाला मामले में दोषी करार लालू यादव जेल में सजा काट रहे हैं। तबियत खराब होने की वजह से फिलहाल उनका रांची के ही एक अस्‍पताल में इलाज चल रहा है। पार‍िवारिक कलह की खबरों से परेशान लालू ने छोटे बेटे तेजस्‍वी को अस्‍पताल में ही तलब किया था। लालू यादव ने कथित तौर पर दोनों भाइयों के बीच जारी कलह पर बातचीत की थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X